बिहार शिक्षक भर्ती परीक्षा में कम किये गए प्रश्न ,जाने कितने अंको की होगी परीक्षा | Reduced questions in Bihar teacher recruitment exam

Reduced questions in Bihar teacher recruitment exam : बिहार लोक सेवा आयोग द्वारा नई बिहार राज्य विद्यालय अध्यापक (नियुक्ति, स्थानातंरण एवं सेवा शर्त) नियमावली 2023 के माध्यम से नई नियुक्ति प्रक्रिया निकाली गई है | बिहार लोक सेवा आयोग ने शिक्षक नियुक्ति का पाठ्यक्रम वेबसाइट पर उपलब्ध करा दिया है और साथ में शिक्षा विभाग द्वारा विद्यालय अध्यापक की नयी नियुक्तियों के लिए उनकी शैक्षणिक योग्यता निर्धारित की गयी है इसके माध्यम से पहली से 12वीं तक के शिक्षकों के लिए अर्हता तय की गयी है। Bihar Teacher Vacancy BPSC आयोग द्वारा जल्द ही प्राथमिक,माध्यमिक और उच्च माध्यमिक विद्यालयों में शिक्षकों की नियुक्ति के लिए ऑनलाइन आवेदन आमंत्रित किये जायेंगे |

BPSC के द्वारा सिलेबस के अनुसार प्राथमिक से उच्च माध्यमिक के लिए कॉमन परीक्षा अंग्रेजी विषय और भाषा में (हिन्दी, उर्दू और बांगला) की परीक्षा की होगी। अब केवल BPSC के द्वारा Bihar Teacher Recruitment Examination का विज्ञापन प्रकाशित किया जाएगा और इस शिक्षण चयन प्रक्रिया के सभी आवेदकों से आवेदन मांगे जाएंगे | इस पोस्ट के माध्यम से हम BPSC द्वारा आयोजित होने वाले बिहार शिक्षक पात्रता परीक्षा किए शैक्षणिक योग्यता की सूची एवं विज्ञापन संबंधी जानकारी आप पहले की पोस्ट के माध्यम से जान सकते है आज इस पोस्ट के माध्यम से परीक्षा में कम किये गए प्रश्न ,जाने कितने अंको की होगी परीक्षा जान पाएंगे |

Reduced questions in Bihar teacher recruitment exam

BPSC द्वारा बिहार शिक्षक बहाली के पात्र कौन :-

  • इस परीक्षा में बिहार या भारत के किसी भी राज्य के निवासी पात्र होंगे|
  • परीक्षा में सम्मलित होने के लिए अनिवाय योग्यता होनी चाहिए |
  • परीक्षा में प्राथमिक, माध्यमिक और उच्च माध्यमिक विद्यालयों में शिक्षकों की नियुक्ति होनी है।
  • BPSC द्वारा विषयवार पाठ्यक्रम एवं परीक्षा की संरचना विवरण कर दिया है।
  • सभी परीक्षाओं के प्रश्न वस्तुनिष्ठ व बहुविकल्पीय होंगे।
  • प्रत्येक गलत उत्तर पर अंक की कटौती की जायगी
  • BPSC द्वारा एक परीक्षा ली जाएगी जिसे पास करने पर नियुक्त किया जायेगा।
  • एक अभ्यर्थी पूरी जिंदगी में सिर्फ 3 बार ही शामिल हो सकते हैं|
  • बीएड और डीएलएड अपीयरिंग उम्मीदवार हैं, उन्हें भी मौका इस परीक्षा में मौका दिया गया है |उन्हें 31 अगस्त तक रिजल्ट लेना होगा |

BPSC के द्वारा बिहार शिक्षक बहाली के लिए अनिवार्य दस्तावेज

  1. पासपोर्ट साइज फोटोग्राफ (हाल का खींचा हुआ)
  2. बी.एड /deled की मार्कशीट
  3. पहचान पत्र
  4. जाति प्रमाण पत्र
  5. निवास प्रमाण पत्र
  6. 10वीं 12वीं की मार्कशीट(विज्ञापन के अनुसार शैक्षणिक योग्यता के अनुसार अंक पत्र)
  7. जन्म तिथि की पुष्टि के लिए मैट्रिक का प्रमाण-पत्र या अंक पत्र
  8. बिहार राज्य के स्थायी निवासी संबंधी प्रमाण-पत्र
  9. केंद्र सरकार, बिहार सरकार या किसी अन्य राज्य सरकार के अधीन किसी भी पद पर नियुक्त हों तो परीक्षा में शामिल होने हेतु सक्षम प्राधिकार के द्वारा निर्गत अनापत्ति प्रमाण-पत्र (No Objection Certificate)
  10. आरक्षण से संबंधित प्रमाण-पत्र
  11. OBC के लिए NCL
  12. आर्थिक रूप से कमजोर वर्ग (EWS) का दावा करने वाले आवेदक का बिहार सरकार के द्वारा जारी प्रमाण-पत्र
  13. दिव्यांगता का दावा करने पर वैध प्रमाण पत्र

प्राथमिक विद्यालय के अध्यापकों का पाठ्यक्रम :-

  • सामान्य अध्ययन: इसमें प्राथमिक गणित, मानसिक क्षमता परीक्षण, सामान्य जागरूकता, सामान्य विज्ञान, सामाजिक विज्ञान, भारतीय राष्ट्रीय आंदोलन, भूगोल और पर्यावरण शामिल हैं। 
  • सामान्य अध्ययन पत्र के प्रश्न प्राथमिक विद्यालय के पाठ्यक्रम से संबंधित होंगे इसका स्तर उम्मीदवार के लिए निर्धारित न्यूनतम अहर्ता के आलोक में होगा।
  • 120 प्रश्न पूछे जाएंगे।
  • 2 घंटे का समय मिलेगा। 

Question-Answer in Hindi

⏩बिहार शिक्षक भर्ती परीक्षा में कम किये गए प्रश्न ,जाने कितने अंको की होगी परीक्षा

माध्यमिक विद्यालयों के अध्यापकों का पाठ्यक्रम

  • कुल 120 प्रश्नों में से 80 प्रश्न विषय से संबंधित होंगे और शेष 40 प्रतिशत सामान्य अध्ययन से पूछे जाएंगे |
  • छात्रों को अपने विषय का 80 प्रश्नों की परीक्षा देनी होगी। बांग्ला, उर्दू, मैथिली, संस्कृत, भोजपुरी, अरबी, फारसी, अंग्रेजी, विज्ञान, गणित एवं सामाजिक विज्ञान।
    -विषय माध्यमिक विद्यालयों के विषयों के पाठ्यक्रम से संबंधित होंगे, लेकिन इसका स्तर उम्मीदवार के लिए निर्धारित न्यूनतम अर्हता के आलोक में होगी।
     भाग 2 में एक सामान्य अध्ययन पत्र है। इसके प्रश्न माध्यमिक विद्यालय के पाठ्यक्रम से संबंधित होंगे, लेकिन इसका स्तर उम्मीदवार के लिए निर्धारित न्यूनतम अर्हता के आलोक में होगा।
  • इसमें प्राथमिक गणित, सामान्य जागरूकता, सामान्य विज्ञान, भारतीय राष्ट्रीय आंदोलन एवं भूगोल शामिल हैं।

उच्च माध्यमिक शिक्षक (पेपर-2) विषय एवं सामान्य अध्ययन :-

  • कुल 120 प्रश्नों में से 80 प्रश्न विषय से संबंधित होंगे और शेष 40 प्रतिशत सामान्य अध्ययन से पूछे जाएंगे।
  • यह पत्र दो भाग में होंगे यथा- भाग – 1 एवं भाग-2
  • भाग 1 में अपने विषय से उम्मीदवारों द्वारा एक पत्र का चुनाव किया जाना है:– हिन्दी, उर्दू, अंग्रेजी, संस्कृत, बांग्ला, मैथिली, मगही, अरबी, फारसी, भोजपुरी, पाली, प्राकृत, गणित, भौतिकी, रसायन शास्त्र, बनस्पति विज्ञान, जन्तु विज्ञान, इतिहास, राजनीति विज्ञान, भूगोल, अर्थशास्त्र, समाज शास्त्र, मनोविज्ञान, दर्शन शास्त्र, गृह विज्ञान, कम्प्यूटर साइंस, वाणिज्य, लेखा, संगीत एवं उद्यमिता ।
  • भाग 2 में एक सामान्य अध्ययन पत्र है, जिसके प्रश्न उच्च माध्यमिक विद्यालय के पाठ्यक्रम संबंधित होंगे, लेकिन इसका स्तर उम्मीदवार हेतु निर्धारित न्यूनतम अहर्ता के आलोक में होगा।
  • इसमें प्राथमिक गणित, सामान्य जागरूकता, सामान्य विज्ञान, भारतीय राष्ट्रीय आंदोलन एवं भूगोल शामिल हैं।

कितने मार्क्स लाना अनिवार्य होगा :-

  • परीक्षाओं में मेधा निर्धारण के लिए सामान्य वर्ग के लिए 40%, पिछड़ा वर्ग के लिए 36.5%, अत्यन्त पिछड़ा वर्ग के लिए 34% एवं अनुसूचित जाति/जनजाति, महिलाओं तथा निःशक्तता से ग्रस्त (दिव्यांग) उम्मीदवारों के लिए 32% निर्धारित न्यूनतम अर्हतांक प्राप्त करना अनिवार्य होगा, अन्यथा ये प्रतियोगिता परीक्षा से बाहर हो जाएंगे।

Share Now :-