Child Development and Pedagogy PDF Notes || बाल विकास एवं शिक्षा शास्त्र व शिक्षा मनोविज्ञान से संबंधित

Important Child Development & Pedagogy Questions :- केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड द्वारा आयोजित शिक्षक पात्रता परीक्षा का आयोजन साल में दो बार किया जाता है आप इस परीक्षा में सफल होकर देश के किसी भी राज्य में शिक्षा बनने के पात्र मने जाते है | बाल विकास शिक्षा शास्त्र के प्रश्न केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड के द्वारा शिक्षक पात्रता परीक्षा सीटेट आयोजित की जाती है | बाल विकास एवं शिक्षाशास्त्र शिक्षक पात्रता परीक्षा जैसे की – CTET, UPTET, HPTET, PSTET,BPSC TET ,MPTET ,etc में इससे सम्बंधित प्रश्न पूछे जाते हैं |

आज हम इस पोस्ट के माध्यम से बाल विकास एवं शिक्षाशास्त्र के कुछ महत्वपूर्ण प्रश्नों को देखेंगे जो केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड द्वारा आयोजित पात्रता परीक्षा में के लिए अति महत्वपूर्ण है। अगर आप भी शिक्षक भर्ती परीक्षा की तैयारी करते हैं तो इस पोस्ट को पूरा जरुर पढ़ें | इस पोस्ट में आपको Important Child Development & Pedagogy Questions के महत्वपूर्ण प्रश्न और उनके उत्तर दिए जा रहे जिसे आप पढ़ परीक्षा में अच्छे मार्क ला सकते हैं | इसलिए बाल विकास एवं शिक्षाशास्त्र के महत्वपूर्ण प्रश्न उत्तर इस पोस्ट के माध्यम से पूरा जरुर देखें |

child-development-and-pedagogy-notes-cdp-mcq

Important Child Development & Pedagogy Question Answer | बाल विकास एवं शिक्षाशास्त्र | CTET CDP Notes in Hindi |CTET 2024 CDP question

Q. जीन पियाजे के अनुसार अधिगम के लिए निम्नलिखित में से क्या आवश्यक है।

A. शिक्षार्थी के द्वारा पर्यावरण की सक्रिय खोजबीन
B. वयस्कों के व्यवहार का अवलोकन
C. ईश्वरीय न्याय पर विश्वास
D. शिक्षकों और माता-पिता द्वारा पुनर्बलन

A. शिक्षार्थी के द्वारा पर्यावरण की सक्रिय खोजबीन

Q. जीन पियाजे के अनुसार प्रारूप (स्कीमा) निर्माण वर्तमान योजनाओं के अनुरूप बनाने हेतु नवीन जानकारी में संशोधन और नवीन जानकारी के आधार पर पुरानी योजनाओं में संशोधन के परिणाम के रूप में घटित होता है। इन दो प्रक्रियाओं को जाना जाता है:

A. समायोजन और अनुकूलन के रूप में
B. समावेशन और अनुकूलन के रूप में
C. साम्यीकरण और संशोधन के रूप में
D. समावेशन और समायोजन के रूप में

D. समावेशन और समायोजन के रूप में

Q. भारत में अधिकांश कक्षाएँ बहुभाषी होती हैं और इसे शिक्षक द्वारा ….. के रूप में देखा जाना चाहिए।

A. समस्या
B. संसाधन
C. बाधा
D. परेशानी

B. संसाधन

Q. शिक्षार्थियों द्वारा की गई गलतियों और त्रुटियाँ

A. शिक्षक और शिक्षार्थियों की असफलता के सूचक हैं
B. इनके चिंतन को समझने के अवसर के रूप में देखी जानी चाहिए
C. कठोरता से निपटाई जानी चाहिए।
D. बच्चों को ‘कमजोर’ अथवा ‘उत्कृष्ट’ चिहित करने के अच्छे अवसर हैं

B. इनके चिंतन को समझने के अवसर के रूप में देखी जानी चाहिए

Q. ……… के विचार से बच्चे सक्रिय ज्ञान-निर्माता तथा नन्हें वैज्ञानिक हैं, जो संसार के बारे में अपने सिद्धान्तों की रचना करते हैं।

A. पैवलॉव
B. युंग (Jung)
C. पियाजे
D. स्किनर

C. पियाजे

Q. निम्न में से कौन-सा नियम यह सुझाव देता है कि ‍शरीर के विभिन्न अंग विकास के विभिन्न चरणों में भिन्न भिन्न दरों में विकसित होते हैं?

A. विकास एक आयामी होता है।
B. विकास एकदिशीय होता है।
C. विकास एक असतत प्रक्रिया है।
D. विकास की दिशा अधोगामी एवं शीर्षगामी है।

D. विकास की दिशा अधोगामी एवं शीर्षगामी है।

यह भी पढ़े :-

Q. निम्न में से कौन-सा कथन सही है?

A. बच्चों का विकास एक सामाजिक-सांस्कृतिक परिप्रेक्ष्य में होता है।
B. बचपन वह अवधि है जिसे 10 भिन्न अवस्थाओं में बाँटा जा सकता है।
C. बच्चों की सोच सामाजिक अन्तः क्रिया से प्रभावित नहीं होती है।
D. बच्चों का विकास केवल आनुवंशिकता पर आधारित होता है।

A. बच्चों का विकास एक सामाजिक-सांस्कृतिक परिप्रेक्ष्य में होता है।

यह भी पढिये :-

Q. एक बच्चे में दूसरों की नीयत और इच्छाओं को समझने की योग्यता है यह बुद्धि के किस स्वरूप को दर्शाती है?

A. Spatial intelligence/ स्थानकीय संबंध बुद्धि
B. Interpersonal intelligence/ अंतरा वैयक्तिक बुद्धि
C. Intrapersonal intelligence/ अन्तः वैयक्तिक बुद्धि
D. Naturalistic intelligence / प्राकृतिक बुद्धि

B. Interpersonal intelligence/ अंतरा वैयक्तिक बुद्धि

Q. राष्ट्रीय शिक्षा नीति 2020 में निम्न में से कौन-सा कथन प्रस्तावित है?

A. अपनी मातृभाषा में शिक्षित होना शैक्षिक और प्रौद्योगिक उन्नति में बाधक है।
B. विद्यालयों को बच्चों को अंग्रेजी भाषा की प्रथम भाषा के रूप में सीखने और बोलने के लिए प्रोत्साहित करना चाहिए।
C.. बाल विद्यार्थियों के लिए बहुभाषी होने के उच्च संज्ञानात्मक लाभ हैं।
D. द्विभाषीय उपागम विद्यार्थियों में उलझन पैदा करता है और सीखने में बाधा डालता है।

C.. बाल विद्यार्थियों के लिए बहुभाषी होने के उच्च संज्ञानात्मक लाभ हैं।

Q. Gender roles are / जेंडर भूमिकाएँ —————– हैं।

A. अधिग्रहित व्यवहार
B. जन्मजात व्यवहार
C. जैविक संरचनाएँ
D. आनुवंशिक निर्धारित

A. अधिग्रहित व्यवहार

Q. विद्यार्थियों में व्यक्तिगत विभिन्नताओं को पूरा करने के लिए, एक शिक्षक को

A. मानकीकृत पद्धतियों और आकलन के तरीकों का उपयोग करना चाहिए।
B. शिक्षाशास्त्रीय उपागमों और मूल्यांकन के विविध साधनों का उपयोग करना चाहिए।
C. रटन आधारित अधिगम को निर्धारित करने के लिए एकरूप शिक्षाशास्व का इस्तेमाल करना और योगात्मक आकलन पर बल देना चाहिए।
D. पेपर पेंसिल आधारित परीक्षणों की संख्या में वृद्धि करना और पुनर्भरण पर बल देना चाहिए।

B. शिक्षाशास्त्रीय उपागमों और मूल्यांकन के विविध साधनों का उपयोग करना चाहिए।

Q. निम्नलिखित में से कौन-सा सार्थक अधिगम को सुसाध्य करेगा?

A. कक्षा में संदर्भ रहित अधिगम को बढ़ावा देना।
B. एक समस्या पर विविध तरीकों से विचार करने के लिए प्रोत्साहित करना।
C. रट्टा मार कर सीखने को प्रोत्साहित करना।
D. शिक्षक द्वारा श्यामपट पर लिखे गए उत्तरों को नकल करना।

B. एक समस्या पर विविध तरीकों से विचार करने के लिए प्रोत्साहित करना।

Q. शिक्षा के प्राथमिक स्तर पर बहुसंवेदनीय उपागम के इस्तेमाल को प्रोत्साहित करना चाहिए, क्योंकि

A. यह अधिगम को और अधिक प्रभावशाली बनाता है।
B. यह कुछ बच्चों को शिक्षा से वर्जित करने के मौके देता है।
C. यह अध्यापक की निर्देश अवधि का काफी समय बचाता है।
D. यह बच्चों में आज्ञापरायणता पैदा करता है।

A. यह अधिगम को और अधिक प्रभावशाली बनाता है।

Q. बच्चे अक्सर विभिन्न संकल्पों के बारे में वैकल्पिक संकल्पनाएँ और भ्रांतियाँ गठित कर लेते हैं। इस संदर्भ में कौन-सा कथन सही नहीं है।

A. एक अध्यापिका को बच्चों द्वारा गठित वैकल्पिक संकल्पनाओं और प्रांतियों को सख्त रूप से हतोत्साहित करना चाहिए।
B. बच्चों और वयस्कों में वैकल्पिक संकल्पनाओं और भ्रांतियों का गठन बहुत स्वभाविक है।
C. एक अध्यापिका को निश्चित रूप से इन वैकल्पिक संकल्पनाओं और भ्रांतियों पर गौर करना चाहिए. क्योंकि ये सीखने-सिखाने की प्रक्रिया में महत्त्वपूर्ण हैं।
D. वैकल्पिक संकल्पनाओं और भ्रांतियाँ सदैव निराधार नहीं होती है, बल्कि बच्चों को अपने आस-पास की दुनिया के बारे में सहज समझ को दर्शाती है।

A. एक अध्यापिका को बच्चों द्वारा गठित वैकल्पिक संकल्पनाओं और प्रांतियों को सख्त रूप से हतोत्साहित करना चाहिए।

Q. शीर्षगामी सिद्धांत विकास के किस क्षेत्र पर लागू होता है?

A. गामक विकास
C. संज्ञानात्मक विकास
B. भाषा विकास
D. नैतिक विकास

A. गामक विकास

Q. परिवार में आरंभ होने वाली वह प्रक्रिया जिसमें बच्चे अपनी व्यक्तिगत पहचान जानना शुरू करते हैं, भाषा सीखते हैं और आरंभिक संज्ञानात्मक कौशल विकसित करते हैं, क्या कहलाती है?

A. प्रारंभिक समाजीकरण
B. द्वितीय समाजीकरण
C. प्रच्छन्न अव्यकृ समाजीकरण
D. सक्रिय समाजीकरण

A. प्रारंभिक समाजीकरण

Q. बाल-केंद्रित कक्षा वह है, जिसमें

A. बच्चों के व्यवहार को निदेशित करने के लिए अध्यापक पुरस्कार और दंड का प्रयोग करता है।
B. अध्यापक लचीला है और प्रत्येक बच्चे की व्यक्तिगत आवश्यकताओं को पूरा करता है।
C. अध्यापक केवल पाठ्यपुस्तक को ज्ञान के स्रोत के लिए उपयोग करता है।
D. अध्यापक, बच्चों को उनकी क्षमता के आधार पर वर्गीकृत करता है।

C. अध्यापक केवल पाठ्यपुस्तक को ज्ञान के स्रोत के लिए उपयोग करता है।

Q. लॉरेंस कोहलबर्ग के सिद्धांत के अनुसार किस चरण पर नैतिक चिन्तन शुरुआती सामाजिक परिपेक्ष पर आधारित होता है?

A. पूर्व पारंपरिक चरण
B. पारंपरिक चरण
C. उत्तर पारंपरिक चरण
D. दूरस्त पारंपरिक चरण

B. पारंपरिक चरण

Q. एक बच्चा जो आंशिक रूप से देख सकता है, उसे-

A. घर पर शिक्षा प्राप्त करने के लिए प्रेरित करना चाहिए
B. एक अलग संस्थान में रखने की जरूरत है
C. समावेशी प्रावधानों का पालन करने वाले नियमित स्कूल में जाना चाहिए
D. बिना किसी विशेष प्रावधान वाले नियमित स्कूल में डाल देना चाहिए, ताकि उसकी स्थितियों से जूझने की क्षमता विकसित हो

C. समावेशी प्रावधानों का पालन करने वाले नियमित स्कूल में जाना चाहिए

Q. रचिता एक गणित अध्यापिका, अपने छात्रों की भाषा कथन वाले प्रश्नों में सही प्रक्रिया पहचानने में त्रुटियों का विश्लेषण कर रही है। इसके पीछे उसका क्या उद्देश्य है?

A. अधिक त्रुटियों वाले छात्रों का कम त्रुटियों वाले छात्रों से पृथक करना।
B. अधिक त्रुटियों वाले छात्रों को दंड स्वरूप अधिक प्रश्न देना।
C. त्रुटि सुधार के लिए अभ्यास वाले अधिक प्रश्न देना।
D. त्रुटियों को समझना, क्योंकि वे छात्रों के चिन्तन को समझने में मदद करते हैं।

D. त्रुटियों को समझना, क्योंकि वे छात्रों के चिन्तन को समझने में मदद करते हैं।

यह भी पढिये :-

Q. राष्ट्रीय शिक्षा नीति 2020 किस पर बल देती है?

A. परीक्षा के लिए पढ़ना
B. स्मरण आधारित शिक्षा
C. वेधन और अभ्यास
D. संप्रत्ययीय समझ

D. संप्रत्ययीय समझ

Q. विकास का चरणीय सिद्धांत निम्नलिखित नियमों में से किस पर स्पष्ट रूप से जोर देता है

A. विकास की निरन्तरता
B. विकास की अनिरन्तरता
C. विकास को प्रभावित करने वाले सांस्कृतिक कारक
D. विकास प्रक्रिया सम्बन्धित वातावरणीय कारक

B. विकास की अनिरन्तरता

Q. निम्न में से कौन-सा अभिलक्षण, कोहलबर्ग के नैतिक विकास मॉडल में सम्मिलित है

A. नैतिक विकास के चरणों का स्वरूप सार्वभौमिक होता है।
B. नैतिक चिंतन के विकास में निरंतरता होती है।
C. नैतिक विकास एक क्रमिक प्रक्रिया नहीं है; यह सम्पूर्ण रूप से वातावरणीय कारकों पर निर्भर है।
D. नैतिक विकास मुख्यतः सांस्कृतिक मूल्यों पर निर्भर है।

A. नैतिक विकास के चरणों का स्वरूप सार्वभौमिक होता है।

Q. शिक्षिका के विद्यार्थियों की (खासकर सुविधा वंचित वर्ग के सफलता एवं असफलता के बारे में विचार, अक्सर उनके सीखने व अभिप्रेरणा को प्रभावित करते हैं। इस संदर्भ में निम्न में से कौन-सा कथन सही है

A. शिक्षक की अपेक्षाएं बच्चों के सीखने को बेहद प्रभावित करती है।
B. शिक्षक को कक्षा में बच्चों की स्वायत्ता पर काबू रखना चाहिए।
C. शिक्षक को बच्चों को प्रतिस्पर्द्धा करने व एक-दूसरे से बेहतर करने के लिए प्रोत्साहित करना चाहिए।
D. शिक्षक को ऐसे विद्यार्थियों को हर हालत में असफलता से बचने के लिए रणनीतियों में प्रशिक्षण देना चाहिए।

A. शिक्षक की अपेक्षाएं बच्चों के सीखने को बेहद प्रभावित करती है।

Q. क्या एक शिक्षक को कक्षा में एक सत्ताधारी व्यक्ति के रूप में देखा जाना चाहिए, जिसे कोई चुनौती न दे सके A. हाँ, इससे विद्यार्थियों को शिक्षकों के आज्ञापालन एवं आदर करने के मूल्यों की सीख मिलती है।
B. हो, केवल ऐसे शिक्षक ही विद्यार्थियों को स्पष्ट मार्गदर्शन एवं यथार्तिक संज्ञानात्मक स्पष्टता प्रदान कर सकते हैं।
C. नहीं, विद्यार्थी ऐसे शिक्षकों से प्रश्न पूछने में हिचकते हैं जिसे उनकी संप्रत्याधिक स्पष्टता में कमी रह जाती है।
D. नहीं, आज के तकनीकी युग में शिक्षक विद्यार्थियों की अधिगम प्रक्रिया में अप्रसांगिक हैं।

C. नहीं, विद्यार्थी ऐसे शिक्षकों से प्रश्न पूछने में हिचकते हैं जिसे उनकी संप्रत्याधिक स्पष्टता में कमी रह जाती है।

शिक्षक का सबसे महत्त्वपूर्ण कार्य है:

Q. निम्नलिखित में से कौन-सा कथन सही है?

A. विकास क्रमबद्ध नहीं होता है।
B. विकास अव्यवस्थित होता है।
C. विकास एक सतत प्रक्रिया है।
D. विकासात्मक प्रतिमान सांस्कृतिक परिवेश से प्रभावित नहीं होते।

C. विकास एक सतत प्रक्रिया है।

Q. जीन पियाजे के सिद्धांतों के अनुसार अनुकूलन किन दो मूल प्रक्रियाओं को समाहित करता है?

A. समायोजन व समावेशन
B. संतुलीकरण एवं संगठन
C. समायोजन एवं संतुलीकरण
D. समावेशन एवं संगठन

A. समायोजन व समावेशन

Q. जीन पियाजे के संज्ञानात्मक विकास के किस स्तर पर बच्चे लंबाई भार जैसे गुणात्मक आधारों पर वस्तुओं को व्यवस्थित कर पाते हैं. परन्तु अमूर्त संरचनाओं की संक्रियात्मकता में कठिनाई महसूस करते हैं?

A. संवेदी-चालक
B. पूर्व-संक्रियात्मक
C. मूर्त-संक्रियात्मक
D. अमूर्त-संक्रियात्मक

C. मूर्त-संक्रियात्मक

Q. पूजा अपनी दोस्त को कहती है कि हमें कक्षा के नियमों का पालन करना चाहिए, वरना शिक्षिका हमें बाहर खेलने की अनुमति नहीं देगी । पूजा, लॉरेंस कोहलबर्ग के नैतिक विकास के किस चरण में है?

A. आज्ञापालन एवं दण्ड अभिविन्यास
B. अच्छा लड़का अच्छी लड़की अभिविन्यास
C. अधिकारिकता एवं सामाजिक क्रम व्यवस्था अभिविन्यास
D. सार्वभौमिक नैतिक सिद्धान्त अभिविन्यास

A. आज्ञापालन एवं दण्ड अभिविन्यास

Q. हावर्ड गार्डनर के अनुसार निम्नलिखित में से कौन-सा कथन सही नहीं है?

A. बुद्धिमत्ता एक स्थिर तथा स्थायी विशिष्टता है।
B. बुद्धिमता को परिपोषित व विकसित किया जा सकता है।
C. बुद्धिमत्ता किसी एक सामान्य खण्ड से हावी नहीं होती, अपितु कई प्रकार की होती है।
D. बुद्धिमत्ता को एकाकी आयाम में सहबद्ध नहीं किया जा सकता।

A. बुद्धिमत्ता एक स्थिर तथा स्थायी विशिष्टता है।

Q. एक बाल केन्द्रित शिक्षा में-

A. शिक्षिका की कोई भूमिका नहीं होती।
B. शिक्षिका की सक्रिय भूमिका होती है तथा विद्यार्थी निष्क्रिय होते हैं।
C. विद्यार्थियों की सक्रिय भूमिका होती है तथा शिक्षिका निष्क्रिय होती है।
D. शिक्षिका व विद्यार्थियों दोनों की सक्रिय भूमिका होती है।

D. शिक्षिका व विद्यार्थियों दोनों की सक्रिय भूमिका होती है।

Q. कथन (P) : कक्षाओं में लड़के गणित व विज्ञान में लड़कियों से कहीं बेहतर प्रदर्शन करने की क्षमता रखते हैं। तर्क (R) : लड़कों में लड़कियों की अपेक्षा गणितीय तर्क व वैज्ञानिक क्षमताएँ सहज रूप से मौजूद होती हैं।

A. (P) और (R) दोनों सही हैं और (R), (P) की सही व्याख्या करता है।
B. (P) और (R) दोनों सही लेकिन (R), (P) की सही व्याख्या नहीं है।
C. (P) सही है और (R) गलत है।
D. (P) और (R) दोनों गलत हैं।

D. (P) और (R) दोनों गलत हैं।

Q. राष्ट्रीय शिक्षा नीति, 2020 किस पर जोर देती है?

A. पाठ्यचर्या का लचीलापन
B. पाठ्यचर्या का मानकीकरण
C. पाठ्यपुस्तकों को गैर-संदर्भीकरण
D. पाठ्यपुस्तकों को रट कर याद करना

A. पाठ्यचर्या का लचीलापन

Q. मूल्यांकन का केंद्र क्या होना चाहिए?

A. अधिगमकर्ता क्या नहीं कर सकता, इसका चित्रण करना।
B. कक्षा के दूसरे बच्चों की तुलना में अधिगमकर्ता के प्रदर्शन का स्पष्टीकरण करना।
C. मानक वर्ग में बच्चे की लेबलिंग करना।
D. अधिगमकर्ता क्या और कैसे सीख रहा है, इसका वर्णन करना।

C. मानक वर्ग में बच्चे की लेबलिंग करना।

Q. किसी विशेष विषय वस्तु को लंबे समय तक स्मरण रखने का करने हेतु, एक शिक्षक को निम्नलिखित में से किस रणनीति से बचना चाहिए?

A. स्मृति-सहायक विधियाँ लागू
B. संगठनात्मक चार्ट बनाना
C. असंबद्ध शब्द प्रस्तुत करना
D. मानसिक चित्र का उपयोग करना

C. असंबद्ध शब्द प्रस्तुत करना

Q. राष्ट्रीय पाठ्यक्रम रूपरेखा (2005) के अनुसार-

A. बच्चे शिक्षक द्वारा दी गयी सामग्री के निष्क्रिय प्राप्तकर्ता है।
B. बच्चों में अधिगम को विनियमित करने की क्षमता नहीं होती। है।
C. बच्चे रटने के माध्यम से सर्वश्रेष्ठ सीखते हैं।
D. बच्चे ज्ञान के निर्माण में सक्रिय भूमिका निभाते हैं।

D. बच्चे ज्ञान के निर्माण में सक्रिय भूमिका निभाते हैं।

Q. ………………….विद्यार्थियों को बोरियत महसूस होने की संभावना है।

A. गतिविधि को महत्त्व न दिए जाने पर
B. गतिविधि को महत्त्व दिए जाने पर
C. उन्हें सफलता मिलने पर
D. उनकी सफलता की अपेक्षा होने पर

A. गतिविधि को महत्त्व न दिए जाने पर

Q. एक बच्ची फुटबाल खेलने सीखने से पहले कूदना व छलांगें मारना सीखती है। यह विकास के किस सिद्धांत को प्रदर्शित करता है

A. Cephalocaudal / शीर्षगामी
B. Proximodistal/ समीपदूराभिमुखी
C. Reversibility/परिवर्तनीयता
D. Equilibration / साम्यधारणा

B. Proximodistal/ समीपदूराभिमुखी

Q. मूर्त संक्रियात्मक अवस्था के बच्चों के लिए एक शिक्षिका को
A. अमूर्त संरचनाओं से सरोकार करने के लिए खूब अभ्यास करवाना चाहिए।
B. वस्तुओं और विचारों को जटिल से वर्गीकृत करने के मौके मोहया कराने चाहिए।
C. ऐसी समस्याएं देनी चाहिए जो उच्च-स्तरीय मूर्त सोच पर आधारित हों।
D. ऐसी समस्याएँ देनी चाहिए जो तर्कपूर्ण वैज्ञानिक समझ की आवश्यकता हो।

B. वस्तुओं और विचारों को जटिल से वर्गीकृत करने के मौके मोहया कराने चाहिए।

Q. एक शिक्षिका अपनी कक्षा से कहती है, “सभी प्रकार के प्रदत्त कार्यों (assignments) का निर्माण इस प्रकार किया गया है कि प्रत्येक विद्यार्थी अधिक प्रभावशाली ढंग से सीख सके, अतः सभी विद्यार्थी बिना किसी अन्य की सहायता से अपना कार्य पूर्ण करें।”
वह कोलबर्ग के किस नैतिक विकास के चरण की ओर संकेत दे रही

A औपचारिक चरण − कानून और व्यवस्था
B. पर-औपचारिक चरण − सामाजिक संविदा
C. पूर्व-औपचारिक चरण − दण्ड परिवर्तन
D. पूर्व-औपचारिक चरण − वैयक्तिकता और विनिमय

A औपचारिक चरण − कानून और व्यवस्था

Q. अधिगम के लिए निम्न में से कौन-सी धारणा उपयुक्त है ?

A. योग्यता सुधार्य है।
B. योग्यता अटल है।
C. प्रयासों से कोई फर्क नहीं पड़ता।
D. असफलता अनियंत्रित है।

A. योग्यता सुधार्य है।

Q. एक 5 वर्ष की बच्ची यह तर्क करने में विफल रहती है। कि जब पानी को एक लंबे और संकीर्ण गिलास से एक चौड़े बर्तन में स्थानांतरित किया जाता है तो पानी की मात्रा समान रहती है। पियाजे के अनुसार इसका क्या कारण है

A. वह प्रतिवर्ती सोच नहीं रखती।
B. वह लक्ष्य निर्देशित व्यवहार नहीं कर सकती।
C. वह प्रतीकों का इस्तेमाल नहीं कर सकती।
D. वह नकल नहीं कर सकती।

A. वह प्रतिवर्ती सोच नहीं रखती।

Q. के. मा. शि. बो. (CBSE) द्वारा अपनाए गए प्रगतिशील शिक्षा के प्रतिमान में बच्चों का समाजीकरण जिस प्रकार से किया जाता है, उससे अपेक्षा की जा सकती है कि

A. वे समय नष्ट करने वाली सामाजिक आदतों प्रकृति का त्याग करें तथा सीखें कि किस प्रकार अच्छी श्रेणियाँ पाई जा सकती हैं (score good grades)
B. वे सामूहिक कार्य में सक्रिय भागीदारिता का निर्वाह करें तथा सामाजिक कौशल सीखें
C. वे बिना प्रश्न उठाए समाज के नियमों-विनियमों का अनुपालन करने के लिए तैयार हो सकें
D. किसी भी प्रकार की सामाजिक पृष्ठभूमि होते हुए भी वे वह सब स्वीकार करें जो उन्हें विद्यालय द्वारा प्रदान किया जाता है

B. वे सामूहिक कार्य में सक्रिय भागीदारिता का निर्वाह करें तथा सामाजिक कौशल सीखें

Q. 14 वर्षीय देविका अपने-आप में पृथक्, स्व-नियंत्रित व्यक्ति की भावना को विकसित करने का प्रयास कर रही है। वह विकसित कर रही है

A. नियमों के प्रति घृणा
B. स्वायत्तता,
C. किशोरावस्थात्मक अक्खड़पन
D. परिपक्वता

B. स्वायत्तता

Q. प्रगतिशील शिक्षा के संदर्भ में निम्नलिखित में से कौन-सा कथन जॉन ड्यूई के अनुसार समुचित है?

A. कक्षा में प्रजातंत्र का कोई स्थान नहीं होना चाहिए
B. विद्यार्थियों को स्वयं ही सामाजिक समस्याओं को सुलझाने में सक्षम होना चाहिए
C. जिज्ञासा विद्यार्थियों के स्वभाव में अन्तर्निहित नहीं है अपितु इसका कर्षण/संवर्धन करना चाहिए।
D. कक्षा में विद्यार्थियों का निरीक्षण करना चाहिए न कि सुनना चाहिए

B. विद्यार्थियों को स्वयं ही सामाजिक समस्याओं को सुलझाने में सक्षम होना चाहिए

Q. कक्षा में विद्यार्थियों के वैयक्तिक विभेद

A. लाभकारी नहीं हैं, क्योंकि अध्यापकों को वैविध्यपूर्ण कक्षा को नियंत्रित करने की आवश्यकता है
B. हानिकारक हैं, क्योंकि इनसे विद्यार्थियों में परस्पर द्वन्द्व उत्पन्न होते हैं ।
C. अनुपयुक्त हैं, क्योंकि ये सर्वाधिक मन्द विद्यार्थी के स्तर तक पाठ्यचर्या के स्थानान्तरण की गति को कम करते हैं ।
D. लाभकारी हैं, क्योंकि ये विद्यार्थियों की संज्ञानात्मक संरचनाओं को खोजने में अध्यापकों को प्रवृत्त करते हैं ।

D. लाभकारी हैं, क्योंकि ये विद्यार्थियों की संज्ञानात्मक संरचनाओं को खोजने में अध्यापकों को प्रवृत्त करते हैं ।

Q. निम्नलिखित में से कौन-सा विकासात्मक विकार का उदाहर

A आत्मविमोह (Autism)
B. प्रमस्तिष्क घात (Cerebral palsy)
C. पर-अभिघातज तनाव (Post-traumatic stress)
D न्यन अवधान सक्रिय विकार (Attention deficit hyperactivity disorder)

C. पर-अभिघातज तनाव (Post-traumatic stress)

Q. विद्यालयों में समावेशन मुख्यतः केन्द्रित होता है।

A. विशिष्ट श्रेणी वाले बच्चों के लिए सूक्ष्मातिसूक्ष्म प्रावधाना के निर्माण पर
B. केवल निर्योग्य छात्रों की आवश्यकताओं को पूर्ण करने पर
C. सम्पूर्ण कक्षा की कीमत पर निर्योग्य बच्चों की आवश्यकता को पूरा करने पर
D. विद्यालयों में निरक्षर अभिभावकों की शैक्षिक आवश्यकत

A. विशिष्ट श्रेणी वाले बच्चों के लिए सूक्ष्मातिसूक्ष्म प्रावधाना के निर्माण पर

Q. इनमें से कौन-सा सिद्धान्तकार यह मत स्पष्ट करता है कि बच्चे … अपनी वृद्धि व विकास हेतु कठोर अध्ययन करते हैं?

A. बंडूरा
B. मैस्लो
C. स्किनर
D. पियाजे

B. मैस्लो

Q. पूर्व-विद्यालय में पहली बार आया बच्चा मुक्त रूप से चिल्लाता है। दो वर्ष पश्चात् वही बच्चा जब प्रारम्भिक विद्यालय में पहली बार जाता है, तो अपना तनाव चिल्लाकर व्यक्त नहीं करता अपितु उसके कन्धे व गर्दन की पेशियाँ तन जाती हैं। उसके इस व्यावहारिक परिवर्तन – का क्या सैद्धान्तिक आधार हो सकता है?

A. विकास क्रमिक प्रकार से होता है
B. विकास निरन्तरीय होता रहता है।
C. अलग-अलग लोगों में विकास भी भिन्न रूप से होता है
D. विभेद व एकीकरण विकास के लक्षण हैं.

D. विभेद व एकीकरण विकास के लक्षण हैं.

Q. निम्नलिखित में से कौन-सा कथन सत्य है?
A आनुवंशिक बुनावट व्यक्ति की, परिवेश की गुणवत्ता के प्रति, – प्रत्युत्तरात्मकता को प्रभावित करती है.
B. गोद लिए गए बच्चों का वही बुद्धि-लब्धांक (IQ) होता है, जो गोद लिए गए उनके सहोदर भाई-बहनों का होता है
C. अनुभव मस्तिष्क के विकास को प्रभावित नहीं करता
D. विद्यालयीकरण का बुद्धि पर कोई प्रभाव नहीं पड़ता

A आनुवंशिक बुनावट व्यक्ति की, परिवेश की गुणवत्ता के प्रति, – प्रत्युत्तरात्मकता को प्रभावित करती है.

Q. वाइगोत्स्की के सिद्धांत में, विकास के निम्नलिखित में से कौन-से पहलू की उपेक्षा होती है?

A. सामाजिक
B. सांस्कृतिक
C. जैविक
D. भाषायी

C. जैविक

Q. एक वर्ष तक के शिशु जब आँख, कान व हाथों से “सोचते हैं, तो निम्नलिखित में से कौन-सा स्तर शामिल होता है?

A. मूर्त संक्रियात्मक स्तर
B. पूर्व-संक्रियात्मक स्तर
C. इंद्रियजनित गामक स्तर
D. अमूर्त संक्रियात्मक स्तर

C. इंद्रियजनित गामक स्तर

Q. निम्न में से कौन-सा स्टर्नबर्ग का बुद्धि का त्रिस्तरीय सिद्धांत का एक रूप है?

A. व्यावहारिक बुद्धि
B. प्रायोगिक बुद्धि
C. संसाधनपूर्ण बुद्धि
D. गणितीय बुद्धि

A. व्यावहारिक बुद्धि

Q. किसने सबसे पहले बुद्धि परीक्षण का निर्माण किया?

A. डेविड वैश्लर
B. एल्फ्रेड बिने
C. चार्ल्स एडवर्ड स्पीयरमैन
D. रॉबर्ट स्टर्नबर्ग

B. एल्फ्रेड बिने

Q. ध्वनि-सम्बन्धी जागरूकता निम्नलिखित में से किस क्षमता से सम्बन्धित

A. ध्वनि संरचना पर चिन्तन करना व उसमें हेर-फेर करना
B. सही-सही व धाराप्रवाह बोलना
C. जानना, समझना व लिखनात
D. व्याकरण के नियमों में दक्ष होना

A. ध्वनि संरचना पर चिन्तन करना व उसमें हेर-फेर करना

Q. “ग्रेड अंकों से कैसे अलग हैं? यह प्रश्न निम्न में से किस प्रकार के प्रश्नों से सम्बन्ध रखता है?

A. अपसारी
B. विश्लेषणात्मक
C. मुक्त-अंत
D. समस्या समाधान

B. विश्लेषणात्मक

Q. शब्दों में अक्षरों के क्रम को पढ़ने में कठिनाई का अनुभव करना है और अकसर चाक्षुष स्मृति का ह्रास ………….. से सम्बन्धित है।

A. डिसलेक्सिया
B. डिस्केल्कुलिया
C. डिस्माफिया
D. डिस्प्राक्सिया

A. डिसलेक्सिया

Q. प्रतिभाशाली शिक्षार्थियों को ……………. से जुड़े प्रश्नों पर समय देने के लिए कहा जा सकता है।

A. स्मरण
B. समझ
C. सर्जन
D. विश्लेषण

C. सर्जन

Q. एल्बर्ट बैन्ड्यूरा के सामाजिक अधिगम सिद्धांत के अनुसार निम्न में से कौन-सा सही है?

A. खेल अनिवार्य है और उसे विद्यालय में प्राथमिकता दी जानी चाहिए।
B. बच्चों के सीखने के लिए प्रतिरूपण (मॉडलिंग) एक मुख्य तरीका हैं।
C. अनसुलझा संकट बच्चे को नुकसान पहुँचा सकता है।
D. संज्ञानात्मक विकास सामाजिक विकास से स्वतंत्र है।

B. बच्चों के सीखने के लिए प्रतिरूपण (मॉडलिंग) एक मुख्य तरीका हैं।

अगर आपको यह पोस्ट अच्छा लगा हो तो आप इसे अपने दोस्तों में शेयर जरुर करे

Share Now :-

Leave a Comment