CTET हिन्दी के महत्वपूर्ण प्रश्न उत्तर देखे | Hindi Pedagogy MCQ Test For CTET

Hindi Language For CTET : केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड द्वारा आयोजित शिक्षक पात्रता परीक्षा का आयोजन साल में दो बार किया जाता है आप इस परीक्षा में सफल होकर देश के किसी भी राज्य में शिक्षा बनने के पात्र मने जाते है | Hindi Pedagogy MCQ Test For CTET के प्रश्न केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड के द्वारा शिक्षक पात्रता परीक्षा सीटेट आयोजित की जाती है | ऑनलाइन मोड में आयोजित होने वाली इस परीक्षा में लाखों की संख्या में अभ्यर्थी शामिल होते है । Hindi Pedagogy परीक्षा में आपको बेहतर परिणाम दिलाने में मददगार साबित हो सकते हैं।

सभी State TET के Exams जैसे UPTET, MPTET, REET, HTET, Bihar TET आदि में हिन्दी pedagogy के प्रश्न पूछे जाते है | यह Bihar Teacher Vacancy में भी बहुत महत्वपूर्ण है |आज हम इस पोस्ट के माध्यम से सीटेट परीक्षा में ‘हिंदी भाषा’ से (CTET Hindi Language Previous Year MCQ) के कुछ महत्वपूर्ण प्रश्नों को देखेंगे जो केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड द्वारा आयोजित पात्रता परीक्षा में के लिए अति महत्वपूर्ण है।

Hindi Language For CTET

Hindi Pedagogy MCQ Test For CTET | CTET Hindi Pedagogy | CTET Hindi Notes

निम्नलिखित गद्यांश को पढ़कर पूछे गए प्रश्नों (प्र.सं. Q1 से Q8 तक) के सबसे उपयुक्त उत्तर वाले विकल्प को चुनिए :
घायल बाज़ फिर उड़ना चाहता था । उसने किसी जह साहस बटोरकर उड़ान भरी और थोड़ी देर पंख पडफड़ाकर उड़ने के बाद नीचे गिर गया । सौंप ने भी बाई पर बने अपने खोखल से निकलकर अपने को आसमान में छोड़ दिया और नीचे जा गिरा । साँप कहने तगा____
“सो उड़ने का यही आनंद है – भर पाया मैं तो ! पक्षी भी कितने मूर्ख हैं । धरती के सुख से अनजान रहकर आकाश की ऊँचाइयों को नापना चाहते थे । किंतु अब नि जान लिया कि आकाश में कुछ नहीं रखा । केवल हर-सी रोशनी के सिवा वहाँ कुछ भी नहीं, शरीर को संभालने के लिए कोई स्थान नहीं, कोई सहारा नहीं । फिर वे पक्षी किस बूते पर इतनी डींगें हाँकते हैं, किसलिए धरती के प्राणियों को इतना छोटा समझते हैं । अब मैं कभी धोखा नहीं खाऊँगा, मैंने आकाश देख लिया और खूब देख लिया । बाज़ तो बड़ी-बड़ी बातें बनाता था, आकाश के गुण गाते थकता नहीं था । उसी की बातों में आकर मैं आकाश में कूदा था । ईश्वर भला करे, मरते मरते बच गया । अब तो मेरी यह बात और भी पछी हो गई है कि अपनी खोखल से बड़ा सुख और कहीं नहीं है । धरती पर रेंग लेता हूँ, मेरे लिए यह बहुत कुछ है । मुझे आकाश की स्वच्छंदता से क्या लेना-देना ? न वहाँ छत है, न दीवारें हैं, न रेंगने के लिए जमीन है । मेरा तो सिर चकाने लगता है। दिल काँप-काँप जाता है । अपने प्राणों को खतरे में डालना कहाँ की चतुराई है ?”
साँप सोचने लगा कि बाज़ अभागा था जिसने आकाश की आज़ादी को प्राप्त करने में अपने प्राणों की बाजी लगा दी। … किंतु कुछ देर बाद साँप के आश्चर्य का ठिकाना नहीं रहा । उसने सुना, चट्टानों के नीचे से एक मधुर, हस्यमय गीत की आवाज़ उठ रही है । पहले उसे अपने कार्मा पर विश्वास नहीं हुआ।
किंतु कुछ देर बाद गीत के स्वर अधिक साफ़ सुनाई देने लगे । वह अपनी गुफा से बाहर आया और चट्टान से नीचे झाँकने लगा । सूरज की सुनहरी किरणों में समुद्र का नीला जल झिलमिला रहा था। लोग मिलकर गा रहे थे.
“ओ निडर बाज़! शत्रुओं से लड़ते हुए तुमने अपना कीमती रक्त बहाया है । पर वह समय दूर नहीं है, जब तुम्हारे खून की एक-एक बूंद जिंदगी के अँधेरे में प्रकाश फैलाएगी और साहसी, बहादुर दिलों में स्वतंत्रता और प्रकाश के लिए प्रेम पैदा करेगी।
तुमने अपना जीवन बलिदान कर दिया किंतु फिर भी तुम अमर हो । जब कभी साहस और वीरता के गीत गाए जाएंगे, तुम्हारा नाम बड़े गर्व और श्रद्धा से लिया जाएगा।”

Q1. “कीमती रक्त” में दोनों शब्द क्रमशः हैं –

A. संज्ञा, सर्वनाम
B. उद्देश्य, विधेय
C. विशेष्य, विशेषण
D.विशेषण, विशेष्य

उत्तर :- D

Q2. ‘ओ निडर बाज़!’ उपर्युक्त पद में कारक की पहचान कीजिए

A. संबंध कारक
B. संबोधन कारक
C. कर्ता कारक
D.कर्म कारक

उत्तर :- B

Q3. ‘स्वतंत्रता’ के पद परिचय के बारे में क्या उपयुक्त नहीं है?

A. ‘ता’ उपसर्ग
B. एकवचन
C. संज्ञा
D.भाववाचक

उत्तर :- A

Q4. घायल होते हुए भी बाज़ ने उड़ान भरी, क्योंकि –

A. उसे मुक्त आकाश की स्वच्छंदता प्रिय थी।
B. उसे अपनी निडरता का प्रमाण देना था।
C. उड़ना उसकी विवशता थी।
D.इससे वह शीघ्र अच्छा हो सकता था।

उत्तर :- A

Q5. “भर पाया मैं तो …… साँप के इस कथन का आशय है

A. आनंद आ गया, अब बैठा रहूँगा।
B. समझ गया, अब धोखा नहीं खाऊँगा।
C. देख लिया, अब नहीं देचूंगा ।
D.मन भर गया, अब नहीं उडूंगा ।

उत्तर :- A

Q6. आकाश के बारे में निम्नलिखित कथनों पर विचार कीजिए और वे कथन चुनिए जिन्हें साँप असत्य मानता है:
(i) वहाँ ढेर सारी रोशनी है।
(ii) वहाँ कोई आधार नहीं है।
(iii) वहाँ सुख ही सुख है।

A. (ii) और (ii)
B. केवल (iii)
C. केवल (i)
D.(i) और (ii)

उत्तर :- B

Q7. साँप सोचने लगा, “बाज़ अभागा था ……” क्योंकि

A. आज़ादी के लिए उसने जान की बाज़ी लगा दी।
B. प्रयास करने पर भी वह उड़ नहीं पाया ।
C. उसने घायल अवस्था में भी उड़ना चाहा ।
D.वह बहुत घायल हो गया था।

उत्तर :- A

यह भी पढिये :-

Q8. साँप के आश्चर्य का ठिकाना न रहा, क्योंकि –

A. , लोग बाज़ की वीरता के गीत गा रहे थे।
B. लोग साँप की समझदारी की प्रशंसा कर रहे थे।
C. घायल बाज़ उड़ने लगा था।
D.सूरज की किरणों से समुद्री जल झिलमिला रहा था।

उत्तर :- A

निम्नलिखित गद्यांश को पढ़कर पूछे गए प्रश्नों पर संख्या Q9 से Q15 तक) के सबसे उपयुक्त उत्तर वाले विकल्प को चुनिए :
जिंदगी में धूप-छाँव के सिद्धांत को मानने वाले फूलों के साथ काँटों की मौजूदगी की शिकायत नहीं करते । संभव नहीं कि बिना अड़चन और चुनौतियों के दैनिक कार्य या विशेष कार्य संपन्न होते चले जाएँ । जोन अप्रिय, अप्रत्याशित घटनाओं से जूझने के लिए स्वयं को तैयार नहीं रखेंगे उनके लिए जीवन अभिशाप बन जाएगा । वे पग-पग पर चिंतित और दुखी रहेंगे और संघर्षों के उपरांत मिलने वाले आनंद से वे वंचित रह जाएँगे । मुश्किल परिस्थितियों में संयत, धीर व्यक्ति भी विचलित हो सकता है । सन्मार्ग पर चलने वाले की राह में कम बाधाएँ नहीं आती।
हम जीवित हैं तो कठिनाइयाँ, चुनौतियाँ आएंगी ही । किंतु स्मरण रहे, कठिनाइयों और बाधाओं का प्रयोजन हमें तोड़ना-गिराना नहीं बल्कि ये हमें सड़ करने के माध्यम हैं । बाधाओं का सकारात्मक पक्ष यह है कि कठिनाइयों से निबटने में उन कौशलों और जानकारियों का प्रयोग आवश्यक होता है जो सामान्य अवस्था में सुषुप्त, निष्क्रिय पड़ी रहती हैं और दुष्का परिस्थितियों से जूझने पर ही सक्रिय स्थिति में आती हैं । सुधी जन को यह पता होता है। अमेरिकी रंगकर्मी और पत्रकार विल रोजर्स ने कहा, ‘कठिनाई से उबरने का मार्ग इसी के बीच मिल जाता है। समस्याओं से नहीं जूझेंगे तो ये विशिष्ट कौशल स्थायी रूप से क्षीण हो जाएँगे तथा व्यक्ति समय तौर पर जीने में अक्षम हो जाएगा।
हो सकता है कोई व्यक्ति एक तख्त पर सोते हुए कष्ट महसूस करे जबकि दूसरा व्यक्ति उसी तख्त को आरामदायक महसूस करे । मगर यह असमानता आरभिक स्तर की है। आंतरिक या मूलगत भाव त एक व्यक्ति की दूसरे से कोई भी भिन्नता नहीं है।
जिसका मन जितने विस्तृत क्षेत्र के विषयों का और भागता है उसके लिए मन को एकाग्र करना उतन ही मुश्किल होता है। लेकिन एक व्यक्ति के मन आकर्षित करने वाली वस्तुएँ किसी अन्य मन, मानसिक स्तर पर प्रभावित कर सकती है और किसी अन्य व्यक्ति की आध्यात्मिक यात्रा में मर भी साबित हो सकती हैं। इसी बिंदु पर यह समझने की है कि दूसरे के प्रति अपनी पवित्र भावना के द्वारा हम अनेक व्यक्तियों की मानस तरंगों में परिवर्तन कर सकते हैं।


Q9. लेखक का कथन है कि आरंभिक स्तर की असमानता के होते हुए भी भीतरी भाव से

A. एक – दूसरे में कोई भिन्नता नहीं होती।
B. हमें कौशलों और जानकारियों का उपयोग करना होता है।
C. सब लोग एक-सा सोचते हैं।
D.मनुष्य विषयों की ओर भागता है।

उत्तर :- A

Q10. ‘निष्क्रिय’ शब्द के लिए सबसे उपयुक्त विपरीतार्थक शब्द होगा

A. कार्यशील
B. सकर्मक
C. क्रियाहीन
D.सक्रिय

उत्तर :- D

Q11. अन्य व्यक्तियों की मानसिक तरंगों में परिवर्तन करना संभव है –

A. उसके प्रति सहानुभूति प्रदर्शित करके।
B. अपनी शुभ और पवित्र भावना के द्वारा ।
C. उसे सुझाव देकर ।
D.उसे समझाकर कि सुख-दुःख अभिन्न हैं ।

उत्तर :- Bयह भी पढ़े –

Q12. ‘जिंदगी में धूप-छाँव के सिद्धांत को मानने वाले फूलों के साथ काँटों की शिकायत नहीं करते’ – क्योंकि वे जानते हैं कि –

A. अप्रत्याशित घटनाओं से जूझना ही पड़ता है।
B. शिकायत करना कोई अच्छी आदत नहीं।
C. सुखों के साथ दुःख भी आते हैं।
D.दैनिक कार्य संपन्न होते रहते हैं।

उत्तर :- A

यह भी पढ़े –

Q13. किनका जीवन अभिशाप बन जाता है ?

A. जो जिंदगी में धूप-छाँव के सिद्धांत को मानते हैं
B. जो सदा सन्मार्ग पर चलते हैं।
C. जो शिकायतें ही करते रहते हैं।
D.जो अप्रिय घटनाओं से जूझने को तैयार नहीं रहते।

उत्तर :- D

Q14. लेखक मानता है कि कठिनाइयों का वास्तविक प्रयोजन है

A. हमारा दृष्टिकोण बदलना
B. हमें सुदृढ़ करने का माध्यम बनना
C. हमें तोड़ना – गिराना
D.हमारे मार्ग में रुकावटें पैदा करना

उत्तर :- B

Q15. लेखक के अनुसार यह असंभव है कि-

A. संघर्षों के बाद हम आनंदों से वंचित रह जाएँ।
B. फूलों के साथ काँटे न मिलें।
C. किसी के जीवन में सदा सुख ही सुख रहें ।
D.बिना अड़चन के कार्य होते चले जाएँ।

उत्तर :- D

Q. हिंदी भाषा का आकलन करने के संदर्भ में वे प्रश्न अपेक्षाकृत बेहतर होते हैं

A. जिनके उत्तर जटिल व दीर्घ होते हैं।
B. जिनके उत्तर तयशुदा होते हैं।
C. जो बच्चों की कल्पना, सृजनशीलता को बढ़ावा देते हैं।
D.जो बच्चों को सुंदर लेखन के लिए प्रेरित करते हैं।

उत्तर :- C

Q.एक व्‍यक्ति ने पूछ लिया – ‘कैसा है वह मुरलीवाला, मैंने तो उसे नही देखा ! क्‍या वह पहले खिलौना भी बेचा करता था ?” एक पाठ का यह अंश पढ़ने के दौरान ______के विशिष्‍ट संदर्भ में सर्वाधिक महत्‍वपूर्ण है।

A. अनुतान
B. लिखने
C. उच्चारण
D.अवबोध

उत्तर :- A

Q. उच्च प्राथमिक स्तर पर बच्चों की सृजनात्मक अभिव्यक्ति की दृष्टि से कौन-सा प्रश्न सर्वाधिक प्रभावी है?

A. लेखक खानपान में बदलाव को लेकर चिंतित क्यों है?
B. घर में बातचीत करके घर में बनने वाले पकवानों के बनने की प्रक्रिया बताइए।
C. खानपान के मामले में स्थानीयता का क्या अर्थ है ?
D.खानपान में बदलाव के कौन-से फायदे हैं ?

उत्तर :- B

Q. भाषा सीखने और भाषा अर्जित करने में अंतर का मुख्य आधार है

A. भाषा का परिवेश
B. भाषा की प्रकृति
C. भाषा की जटिलता
D.भाषा का सौंदर्य

उत्तर :- C

Q. दीप्ति ने आठवीं कक्षा के बच्चों को समान भाव बाली कविता खोज कर सुनाने के लिए कहा । इसका प्रमुख कारण है –

A. बच्चों का मनोरंजन करने का निर्वहन।
B. बच्चों के बोध स्तर का आकलन करना।
C. बच्चों को समान भाव का अर्थ समझाना ।
D.बच्चों की श्रवण-प्रक्रिया का आकलन करना।

उत्तर :- A

Q. राष्ट्रीय पाठ्यचर्या की रूपरेखा 2005 भाषा को बच्चे/का सबसे समृद्ध संसाधन मानती है।

A. व्यवसाय
B. भाषा
C. अस्मिता
D.व्यक्तित्व

उत्तर :- C

Q. इनमें से कौन-सा शब्द शब्दकोश में सबसे पहले आएगा ?

A. सिलसिला
B. सीरत
C. सिम्त
D.सिरजती

उत्तर :- C

Q. कक्षा छह में कविता-शिक्षण के दौरान सर्वाधिक महत्त्वपूर्ण है।

A. भिन्न-भिन्न समास
B. भिन्न-भिन्न छंद
C. भिन्न-भिन्न शब्द प्रयोग
D.भिन्न-भिन्न भाव भूमि

उत्तर 😀

Q. भाषा स्वयं में एक__व्यवस्था है।

A. नियमबद्ध
B. तार्किक
C. सरल
D.जटिल

उत्तर :- A

Q. नाटक और एकांकी पढ़ने-पढ़ाने के दौरान सर्वाधिक महत्त्वपूर्ण है –

A. मौन पठन
B. संवाद अदायगी
C. उच्चारणगत शुद्धता
D.नाटक के शास्त्रीय तत्त्व

उत्तर :- B

Q. कक्षा आठ के लिए साहित्य का चयन करते समय आप किस तत्त्व को सर्वाधिक महत्त्व देंगे / देंगी ?

A. रहस्य-रोमांच
B. पशु-पक्षी
C. परी-कथा
D.राजा-रानी

उत्तर :- A

Q. कक्षा सात में हिंदी भाषा के आकलन की दृष्टि सबसे कम प्रभावी है

A. बातचीत
B. श्रुतलेख
C. प्रश्न निर्माण
D.अवलोकन

उत्तर :- B

Q. भाषा सीखने-सिखाने की प्रक्रिया को रोचक और सोद्देश्यपूर्ण बनाने में सर्वाधिक प्रभावी है।

A. कहानी, कविता की पंक्तियाँ देखकर लिखना
B. टी.वी. धारावाहिकों के नाम लिखना
C. कक्षा के प्रिंट समृद्ध परिवेश का उपयोग
D.पाठ्य-पुस्तक के अभ्यास

उत्तर :- C

Q. ‘उन विज्ञापनों को इकट्ठा कीजिए जो हाल ही के ठंडे पेय पदार्थों से जुड़े हैं । उनमें स्वास्थ्य और सफ़ाई पर दिए गए ब्यौरों को छाँटकर देखें कि हकीकत क्या है ?” यह प्रश्न –

A. बच्चों को ठंडे पेय पीने की प्रेरणा देता है।
B. बाहर की दुनिया को अत्यधिक महत्त्व देता है।
C. बाहर की दुनिया और कक्षा को जोड़ता है। .
D.बच्चों के लिए बहुत जटिल है।

उत्तर :- C

Q. उच्च प्राथमिक स्तर पर भाषा-शिक्षण का एक अत्यंत महत्त्वपूर्ण उद्देश्य है

A. समस्त हिंदी साहित्यकारों से परिचित कराना।
B. समस्त अहिंदी साहित्यकारों से परिचित कराना।
C. व्याकरण के नियम सिखाना व प्रयोग करवाना।
D.विभिन्न कार्यक्षेत्रों से जुड़ी प्रयुक्तियों से परिचित कराना।

उत्तर :- C

Share Now :-