बाल विकास एवं शिक्षाशास्त्र महत्वपूर्ण प्रश्न-उत्तर | Important Child Development & Pedagogy Questions

Important Child Development & Pedagogy Questions :- केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड द्वारा आयोजित शिक्षक पात्रता परीक्षा का आयोजन साल में दो बार किया जाता है आप इस परीक्षा में सफल होकर देश के किसी भी राज्य में शिक्षा बनने के पात्र मने जाते है | बाल विकास शिक्षा शास्त्र के प्रश्न केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड के द्वारा शिक्षक पात्रता परीक्षा सीटेट आयोजित की जाती है | इस पोस्ट में आपको Important Child Development & Pedagogy Questions के महत्वपूर्ण प्रश्न और उनके उत्तर दिए जा रहे जिसे आप पढ़ परीक्षा में अच्छे मार्क ला सकते हैं |

अगर आप भी शिक्षक भर्ती परीक्षा की तैयारी करते हैं तो इस पोस्ट को पूरा जरुर पढ़ें | बाल विकास एवं शिक्षाशास्त्र शिक्षक पात्रता परीक्षा जैसे की – CTET, UPTET, HPTET, PSTET,BPSC TET ,MPTET ,etc में इससे सम्बंधित प्रश्न पूछे जाते हैं | आज हम इस पोस्ट के माध्यम से बाल विकास एवं शिक्षाशास्त्र के कुछ महत्वपूर्ण प्रश्नों को देखेंगे जो केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड द्वारा आयोजित पात्रता परीक्षा में के लिए अति महत्वपूर्ण है। इसलिए बाल विकास एवं शिक्षाशास्त्र के महत्वपूर्ण प्रश्न उत्तर इस पोस्ट के माध्यम से पूरा जरुर देखें |

important-questions-of-child-pedagogy-cdp

बाल विकास एवं शिक्षाशास्त्र के महत्वपूर्ण प्रश्न -उत्तर | CDP MCQs for TET and CTET exams.|CTET CDP ONE Liner | CTET CDP test

Q. निम्नलिखित में से किस मनोवैज्ञानिक ने प्रस्तावित किया है कि बच्चों का चिंतन गुणात्मक रूप से वयस्कों की अपेक्षा अलग होता है ?

A. हॉवर्ड गार्डनर
B. लॉरेंस कोलबर्ग
C. जीन पियाजे
D. लेव वायगोत्स्की

C. जीन पियाजे

Q. विकास के विषय में निम्नलिखित में से कौन सा कथन सही है ?

A. विकास सुरुचिपूर्ण, सुव्यवस्थित समूह की अवस्थाओं में पूर्वनिश्चित आनुवंशिक
घटकों के कारण होता है।
B. विकास एक सरल और एक-दिशीय प्रक्रिया है।
C. बच्चों के विकास में बहुत-सी सांस्कृतिक विविधताएँ होती हैं।
D. संसार में सभी बच्चों का विकास एक ही क्रम में और सुनिश्चित समय से होता है।

C. बच्चों के विकास में बहुत-सी सांस्कृतिक विविधताएँ होती हैं।

Q. निम्नलिखित में से मध्य बाल्यावस्था की अवधि का मुख्य प्रमाण चिह्न कौन सा है ?

A. पेशीय कौशल और समग्न शारीरिक वृद्धि का तेज़ी से विकास।
B. वैज्ञानिक तर्क और अमूर्त रूप से सोचने की क्षमता का विकास।
C. प्रतीकात्मक-खेल का उभरना।
D. तर्कसंगत विचारों का विकास जो कि प्राकृतिक रूप से मूर्त है।

D. तर्कसंगत विचारों का विकास जो कि प्राकृतिक रूप से मूर्त है।

यह भी पढिये :-

Q. प्रतिकूल परिस्थितियों और वंचित पृष्ठभूमि वाले अधिगमकर्ताओं को संबोधित करने के लिए निम्नलिखित में से कौन सी पद्धति प्रभावशाली नहीं है?

A. विद्यार्थियों को संतुलित चुनौतीपूर्ण लक्ष्यों
के लिए अभिप्रेरित करना और उपयुक्त शिक्षण सहायता उपलब्ध कराना।
B. कार्यकलापों के लिए सहयोगी समूह बनाना और विद्यार्थियों को एक दूसरे का समर्थन करने के लिए प्रोत्साहित करना।
C. अधिगमकर्ताओं से बातचीत करके उनकी
आवश्यकताओं और उनके सम्मुख आई चुनौतियों को समझना।
D. अधिगमकर्ताओं को विद्यालय के बाहर ट्यूशन पढ़ने के लिए कहना, जिससे कि अध्यापक को उन पर अधिक ध्यान न देना पड़े।

D. अधिगमकर्ताओं को विद्यालय के बाहर ट्यूशन पढ़ने के लिए कहना, जिससे कि अध्यापक को उन पर अधिक ध्यान न देना पड़े।

Q. लॉरेंस कोलबर्ग की नैतिक विकास के सिद्धांत के अनुसार व्यक्ति किस अवस्था में है जब वह विश्वास करता है कि वर्तमान सामाजिक प्रणाली को सक्रियतापूर्वक बनाए रखने से धनात्मक मानवीय संबंध और सामाजिक वर्ग सुरक्षित रहता है ?

A. यंत्रीय उद्देश्य अभिविन्यास
B. सार्वभौमिक नैतिक सिद्धांत अभिविन्यास
C. दंड और आज्ञापालन अभिविन्यास
D. सामाजिक-क्रम व्यवस्था अभिविन्यास

D. सामाजिक-क्रम व्यवस्था अभिविन्यास

Q. बाल्यावस्था की अवधि में विकास –

A. में केवल परिमाणात्मक परिवर्तन होते हैं।
B. अनियमित और असंबद्ध होता है।
C. धीमी गति से होता है एवं उसे मापा नहीं . जा सकता।
D. बहुस्तरीय और मिश्रित होता है।

C. धीमी गति से होता है एवं उसे मापा नहीं . जा सकता।

Q. लेव वायगोत्स्की के अनुसार —

A. बच्चों का संज्ञानात्मक विकास चरणों में … होता है।
B. स्कीमा के परिपक्कन से बच्चों में .. संज्ञानात्मक विकास अग्रसर होता है।
C. बच्चों के संज्ञानात्मक विकास में भाषा की . एक महत्त्वपूर्ण भूमिका है।
D. बच्चे ‘भाषा अधिग्रहण यंत्र’ द्वारा भाषा सीखते हैं।

C. बच्चों के संज्ञानात्मक विकास में भाषा की एक महत्त्वपूर्ण भूमिका है।

Q. बच्चों के समाजीकरण के संदर्भ में निम्न में से कौन सा कथन सही है ?

A. विद्यालय समाजीकरण का एक द्वितीयक कारक है और परिवार समाजीकरण का एक प्राथमिक कारक है।
B. विद्यालय समाजीकरण का एक प्राथमिक कारक है और समकक्षी समाजीकरण के द्वितीयक कारक हैं।
C. समकक्षी समाजीकरण के प्राथमिक कारक हैं और परिवार समाजीकरण का एक द्वितीयक कारक है।
D. परिवार एवम् जन-संचार दोनों समाजीकरण के द्वितीयक कारक हैं।

A. विद्यालय समाजीकरण का एक द्वितीयक कारक है और परिवार समाजीकरण का एक प्राथमिक कारक है।

Q. निम्नलिखित में से कौन-सा कथन आकलन प्रक्रियाओं के बारे में सबसे कम उपयुक्त है?

A. सीखने के संकेतकों और उप-संकेतकों की सूची बनाना रिपोर्टिंग को अधिक विस्तृत बनाता है
B. ‘ठीक’, ‘अच्छा’ और ‘बहुत अच्छा’ जैसी टिप्पणियों बच्चे के ‘सीखने के बारे में एक समझ प्रदान करती हैं
C. बच्चों के पोर्टफोलियों में केवल उनके सबसे बेहतर कार्य न होकर सभी तरह के कार्य होने चाहिए।
D. बच्चे को निजी विवरण और वैयक्तिक पृष्ठपोषण (फीडबैक) देना वांछनीय अभ्यास है।

D. बच्चे को निजी विवरण और वैयक्तिक पृष्ठपोषण (फीडबैक) देना वांछनीय अभ्यास है।

यह भी पढ़े :-

UDISE Plus के कार्य जाने पूरी जानकारी इस पोस्ट में |Complete details about UDISE Plus

👉🏿पर्यावरण अध्ययन प्रश्न उत्तर CTET के लिए | CTET EVS Environment GK Question Answer

सामान्य अध्ययन के महत्वपूर्ण प्रश्न और उत्तर |General Studies Objective Question MCQ in Hindi

Q. ‘निकटस्थ विकास का क्षेत्र’ क्या है?

A. वह प्रक्रिया जिसमें शुरू में विभिन्न समझ वाले दो व्यक्ति समान समझ पर पहुंचते हैं ।
B. वह प्रक्रिया जिसमें बच्चे, समाज के वयस्क सदस्यों द्वारा निर्धारित विधि से कार्य करते हैं।
C. बच्चों के वर्तमान स्तर पर स्वतंत्र प्रदर्शन और वयस्क व अधिक कौशल वाले समकक्षियों की सहायता से बच्चे द्वारा उपार्जित किए जाने वाले प्रदर्शन के मध्य का क्षेत्र है।
D. विभिन्न प्रकार के कार्य जो कि अपनी आयु के अनुसार बच्चे को करने चाहिए परन्तु वह नहीं कर सकती है।

C. बच्चों के वर्तमान स्तर पर स्वतंत्र प्रदर्शन और वयस्क व अधिक कौशल वाले समकक्षियों की सहायता से बच्चे द्वारा उपार्जित किए जाने वाले प्रदर्शन के मध्य का क्षेत्र है।

Q. बहु-बुद्धि का सिद्धांत जोर देता है कि

A. बुद्धि-लब्धि केवल वस्तुनिष्ठ परीक्षणों द्वारा ही मापी जा सकती है।
B. एक आयाम में बुद्धिमत्ता, अन्य सभी आयामों में बुद्धिमत्ता निर्धारित करती है।
C. बुद्धिमत्ता की विभिन्न दशाएँ हैं।
D. बुद्धिमत्ता में कोई व्यक्तिगत विभिन्नताएँ नहीं होती हैं।

B. एक आयाम में बुद्धिमत्ता, अन्य सभी आयामों में बुद्धिमत्ता निर्धारित करती है।

Q. लॉरेंस कोलबर्ग के सिद्धांत के अनुसार, “किसी कार्य को इसीलिए करना, क्योंकि दूसरे इसे स्वीकृति देते हैं”, नैतिक विकास के____चरण को दर्शाता है।

A. प्रथा-पूर्व
B. प्रथागत
C. उत्तर-प्रथागत
D. अमूर्त संक्रियात्मक

A. प्रथा-पूर्व

Q. लेव वायगोत्स्की का सामाजिक-सांस्कृतिक परिप्रेक्ष्य, अधिगम प्रक्रिया में ___ के महत्त्व पर जोर देता है।

A. सांस्कृतिक उपकरणों
B. गुणारोपण
C. अभिप्रेरणा
D. संतुलीकरण

A. सांस्कृतिक उपकरणों

Q, अध्यापकों को कक्षा में बहुभाषीयता को समझना चाहिए।

A. एक समस्या
B. एक व्यवस्थागत मुद्दा
C. एक गुण और साधन
D. एक रुकावट

C. एक गुण और साधन

Q. कक्षा में सभी लिंगों में जेंडर रूढ़िवादिता कम करने और विकास के विस्तार की संभावनाओं को बढ़ाने के लिए प्रभावशाली पद्धति कौन सी है ?

A. एक ही लिंग के योग्यता समूह बनाना ।
B. क्रियाकलाप के लिए मिश्रित लिंग समूहबनाना और विचार-विमर्श को प्रोत्साहित करना।
C. लिंगों के जैविक अंतरों की उपेक्षा करना और उन्हें अस्वीकार करना।
D. समाज में चित्रित लिंग भूमिकाओं को प्रबल करना।

B. क्रियाकलाप के लिए मिश्रित लिंग समूहबनाना और विचार-विमर्श को प्रोत्साहित करना।

Q. किस मनोवैज्ञानिक के अनुसार बच्चों के संज्ञानात्मक विकास में ‘सांस्कृतिक उपकरण’. एक महत्त्वपूर्ण भूमिका निभाते है ?

A. अल्बर्ट बन्डुरा
B. बी.एफ. स्किनर
C. लेव वायगोत्स्की
D. जीन पियाजे

C. लेव वायगोत्स्की

गणित पैडागोजी के महत्वपूर्ण प्रश्न उत्तर | CTET Important One liner Maths pedagogy

Q. बाल-केंद्रित कक्षा वह है, जिसमें

A. बच्चों के व्यवहार को निदेशित करने के लिए अध्यापक पुरस्कार और दंड का प्रयोग करता है।
B. अध्यापक लचीला है और प्रत्येक बच्चे की व्यक्तिगत आवश्यकताओं को पूरा करता है।
C. अध्यापक केवल पाठ्यपुस्तक को ज्ञान के स्रोत के लिए उपयोग करता है।
D. अध्यापक, बच्चों को उनकी क्षमता के आधार पर वर्गीकृत करता है।

C. अध्यापक केवल पाठ्यपुस्तक को ज्ञान के स्रोत के लिए उपयोग करता है।

Q एक खेल क्रिया के दौरान चोट लगने पर रोहन रोने लगा । यह देखकर उसके पिता ने कहा, “लड़कियों की तरह व्यवहार ना करो; लड़के रोते नहीं हैं।” पिता का यह कथन

A. लैंगिक रूढ़िवादिताओं को दर्शाता है।
B. लैंगिक रूढ़िवादिताओं को चुनौती देता है।
C. लैंगिक भेदभाव को कम करता है।
D. लैंगिक समानता को बढ़ावा देता है ।

A. लैंगिक रूढ़िवादिताओं को दर्शाता है।

यह भी पढिये :-

Q. ‘समावेशी शिक्षा के पीछे अंतर्हित विचार है –

A. अलग-अलग अक्षमताओं वाले बच्चों के लिए विशिष्ट शैक्षिक संस्थानों का प्रावधान करना।
B. दार्शनिकता कि सभी बच्चों को नियमित विद्यालय में समान शिक्षा पाने का अधिकार है।
C. बच्चों को उनकी योग्यता के आधार पर पृथक करना और व्यावसायिक प्रशिक्षण का प्रबंध करना।
D. बच्चों की अक्षमताओं के आधार पर, उनकी सीमाओं की पहचान करने के लिए. उन्हें नामांकित करना।

B. दार्शनिकता कि सभी बच्चों को नियमित विद्यालय में समान शिक्षा पाने का अधिकार है।

Q एक गतिविधि के दौरान, छात्रों को संघर्ष करते देख, एक अध्यापिका बच्चों को संकेत और इशारे जैसे -“क्या, क्यों, कैसे’ प्रदान करने का फैसला लेती है । लेव वायगोत्स्की के सिद्धांत के अनुसार, अध्यापिका की यह योजना –

A. बच्चों को अधिगम के लिए अनुत्प्रेरित/निष्प्रेरित करेगी।
B. अधिगम के लिए पाड़/आधारभूत संरचना का काम करेगी।
C. छात्रों में प्रत्याहार/निकास प्रवृत्तियाँ पैदा करेगी।
D. अधिगम की प्रक्रिया में अर्थहीन होगी।

B. अधिगम के लिए पाड़/आधारभूत संरचना का काम करेगी।

Q. जीन पियाजे के संज्ञानात्मक विकास के सिद्धांत में, पूर्व-संक्रियात्मक अवस्था में विकास का मुख्य गुण क्या होता है ?

A. अमूर्त सोच का विकास
B. विचार/सोच में केंद्रीकरण
C. परिकल्पित-निगमनात्मक सोच
D. संरक्षण और पदार्थों को क्रमबद्ध करने की क्षमता

B. विचार/सोच में केंद्रीकरण

Q. जेंडर रूढ़िवादिता को रोकने के लिए एक अध्यापक द्वारा कक्षा में प्रयोग की जाने वाली कौन-सी विधि उचित नहीं है?

A. जेंडर पक्षपात को चुनौती देना
B. कक्षा में बालक-बालिकाओं को अलग-अलग बैठाने की व्यवस्था करना
C. जेंडर भेद-भाव पर चर्चा करना
D. ऐसे उदाहरणों का प्रयोग करना जिनमें लड़के और लड़कियाँ गैर-परम्परावादी भूमिकाओं में दिखाई दें

B. कक्षा में बालक-बालिकाओं को अलग-अलग बैठाने की व्यवस्था करना

Q. पारी अपने पिता की बढ़ई की दुकान में उनकी सहायता करती है, जहाँ पर वह लकड़ी के ब्लॉक (टुकड़ों) को अपने पिता द्वारा सिखाई गई विधि से सफलापूर्वक मापती है। उसे हाल में ई० डब्लयू० एस० स्कीम के अंतर्गत एक पब्लिक विद्यालय में प्रवेश मिला है, जहाँ पर वह शैक्षिक अपेक्षाओं (खासकर गणित की) का सामना करने में असमर्थ है। इस स्थिति में अध्यापक को—

A. पारो को कहना चाहिए, कि उसमें पढ़ने की क्षमता नहीं है।
B. पारो को परीक्षाएं देनी चाहिए और दोहराव व वेधन को बढ़ावा देना चाहिए।
C. पाठ्यक्रम और अध्ययन सामग्री को पारो के लिए प्रासंगिक बनाना चाहिए और पारो द्वारा विद्यालय के बाहर सीखे गए गणितीय अनुभवों का समावेशन करना चाहिए
D. पारी को घर पर सीखे ज्ञान को स्कूल से सीखे ज्ञान से पृथक रखने के लिए कहना चाहिए

C. पाठ्यक्रम और अध्ययन सामग्री को पारो के लिए प्रासंगिक बनाना चाहिए और पारो द्वारा विद्यालय के बाहर सीखे गए गणितीय अनुभवों का समावेशन करना चाहिए

Q. ध्वनि, लय और शब्दों के अर्थ के प्रति सचेतना किस बुद्धि के मूल है?

A. अंतर्वैयक्तिक
B. अंतरार्वैयक्तिक
C. भाषिक
D. स्थानिक

C. भाषिक

Q. एक सामाजिक संरचनात्मक कक्षा में कौन-सी आंकलन विधि अधिक उपयुक्त रहेगी?

A. सहयोगी प्रायोजित कार्य
B. एक शब्दोत्तर वाले वस्तु पूरक प्रश्न
C. मानक परीक्षण
D. मात्र स्मरण पर आधारित परीक्षा

A. सहयोगी प्रायोजित कार्य

यह भी पढ़े :-

पर्यावरण के प्रश्न जो बार-बार पूछे जाते है पढ़े | Important Questions on Environmental Studies

Ctet EVS Question in Hindi | पर्यावरण अध्ययन के महत्वपुर्ण प्रश्न वन लाइनर

बाल विकास एवं शिक्षाशास्त्र के महत्वपूर्ण वन लाइनर प्रश्न-उत्तर |Most Important Child Development & Pedagogy One Liner

बाल विकास और शिक्षाशास्त्र के महत्वपूर्ण प्रश्न- उत्तर | Top-30 Child Development & Pedagogy Questions for CTET

Q0 विकास के संदर्भ में निम्न में से कौन सा कथन सही है ?

A. विकास की दर, सभी संस्कृतियों में सभी के लिए समान होती है।
B. विकास केवल विद्यालय में होने वाले अधिगम से ही होता है।
C. विकास केवल बाल्यावस्था के दौरान ही होता है।
D. विकास बहुआयामी होता है।

D. विकास बहुआयामी होता है।

Q जन्म से किशोरावस्था तक बच्चों में विकास किस क्रम में होता है?

A. सांवेदिक, मूर्त, अमूर्त
B. अमूर्त, सांवेदिक, मूर्त
C. मूर्त, अमूर्त, सांवेदिक
D. अमूर्त, मूर्त, सांवेदिक

A. सांवेदिक, मूर्त, अमूर्त

Q. एक समावेशी कक्षा में पर जोर होना चाहिए।

A. प्रदर्शन-अभिमुखी लक्ष्यों
B. अविभेदी/समरूपी निर्देशों
C. सामाजिक पहचान के आधार पर छात्रों के अलगाव
D. हर बच्चे के सामर्थ्य को अधिकतम करने के लिए अवसर प्रदान करने

D. हर बच्चे के सामर्थ्य को अधिकतम करने के लिए अवसर प्रदान करने

Q. दिव्यांगजन अधिकार अधिनियम (2016) के अनुसार, निम्न में से किस शब्दावली का प्रयोग उपयुक्त है ?

A. मंदित छात्र
B. विकलांग छात्र
C. छात्र जिसे शारीरिक दिव्यांगता है।
D. छात्र जिसका अशक्त शरीर है।

C. छात्र जिसे शारीरिक दिव्यांगता है।

Q. अधिगम कठिनाइयों से जूझते छात्रों की जरूरतों को संबोधित करने के लिए, एक अध्यापक को क्या नहीं करना चाहिए?

A. दृश्य-श्रव्य सामग्रियों का इस्तेमाल ।
B. संरचनात्मक शिक्षाशास्त्रीय उपागमों का इस्तेमाल ।
C. व्यक्तिगत शैक्षिक योजना बनाना ।
D. शिक्षाशास्त्र और आकलन की जटिल संरचनाओं का प्रयोग।

D. शिक्षाशास्त्र और आकलन की जटिल संरचनाओं का प्रयोग।

यह भी पढ़े –

Q7 विविध पृष्ठभूमियों के अधिगमकर्ताओं को संबोधित करने हेतु, एक अध्यापक को

A. विविधता संबंधी मुद्दों पर बातचीत टालनी चाहिए।
B. विविध विन्यासों से उदाहरण लेने चाहिए।
C. सभी के लिए मानकीकृत आंकलनों का इस्तेमाल करना चाहिए।
D. ऐसे कथनों का इस्तेमाल करना चाहिए जो नकारात्मक रूढिबद्ध धारणाओं को मजबूत करें।

B. विविध विन्यासों से उदाहरण लेने चाहिए।

Q. वाइगोत्स्की के अनुसार, बच्चे सीखते हैं

A. परिपक्व होने से
B. अनुकरण से
C. वयस्कों और समवयस्कों के साथ परस्पर क्रिया से
D. जय पुनर्बलन प्रदान किया जाता है

C. वयस्कों और समवयस्कों के साथ परस्पर क्रिया से

Q. कोलबर्ग ने प्रस्तुत किए हैं ।

A. शारीरिक विकास के चरण
B. संवेगात्मक विकास के चरण
C. नैतिक विकास के चरण
D. संज्ञानात्मक विकास के चरण

C. नैतिक विकास के चरण

Q. बुद्धि है

A एक अकेला और जातीय विचार
B. दूसरों के अनुकरण करने की योग्यता
C. एक विशिष्ट योग्यता
D. सामथ्यों का एक समुच्चय

D. सामथ्यों का एक समुच्चय

Q. अधिगम की अभिप्रेरणा को किस प्रकार कायम रखा जा सकता है ?

A. बच्चे को दंड देकर।
B. प्रवीणता-अभिमुखी लक्ष्यों पर जोर देकर।
C. बच्चों को बहुत आसान क्रियाकलाप देकर।
D. यंत्रवत याद करने पर जोर देकर ।

B. प्रवीणता-अभिमुखी लक्ष्यों पर जोर देकर।

Q1 निम्न में से अध्यापन-अधिगम का सबसे प्रभावशाली माध्यम कौन सा है?

A. विषय-वस्तु को यंत्रवत याद करना
B. संकल्पनाओं के बीच संबंध खोजना
C. बिना विश्लेषण के अवलोकन करना
D. अनुकरण/नकल और दोहराना

B. संकल्पनाओं के बीच संबंध खोजना

Q . एक अध्यापिका को, दिये गए किसी कार्यकलाप में छात्रों की विभिन्न त्रुटियों का विश्लेषण करना चाहिए, क्योंकि

A. इसके आधार पर वह दंड की मात्रा निर्धारित कर सकती है।
B. त्रुटियों की समझ, अध्यापन-अधिगम प्रक्रिया के लिए अर्थपूर्ण है।
C. इसके आधार पर वह ज्यादा टियाँ करने वाले छात्रों को दूसरे छात्रों से अलग कर सकती है।
D. अधिगम केवल त्रुटियों के शोधन पर निर्भर

B. त्रुटियों की समझ, अध्यापन-अधिगम प्रक्रिया के लिए अर्थपूर्ण है।

यह भी पढ़े :-👉🏿गणित पैडागोजी के महत्वपूर्ण प्रश्न उत्तर | CTET Important One liner Maths pedagogy

Q. बच्चों को सीखने में कठिनाई होती है, जब

A. सूचना अलग-अलग टुकड़ों में प्रस्तुत की जाए।
B. वो आंतरिक रूप से अभिप्रेरित हो ।
C. अधिगम सामाजिक संदर्भ में हो।
D. विषय-वस्तु को बहुरूपों में प्रस्तुत किया गया हो।

B. वो आंतरिक रूप से अभिप्रेरित हो ।

👉🏿बिहार सामान्य ज्ञान एवं सामान्य अध्ययन | Bihar General Knowledge 2023

Q. अधिगम की सर्वोत्तम अवस्था कौन सी है?

A. उच्च उत्तेजना, उच्च भय
B. निम्न उत्तेजना, उच्च भय
C. संतुलित उत्तेजना, कोई भय नहीं
D. कोई उत्तेजना नहीं, कोई भय नहीं

B. निम्न उत्तेजना, उच्च भय

Q. निम्नलिखित में से कौन सा एक भारत का संघ शासित प्रदेश नहीं है ?

A. लद्दाख
B. जम्मू और कश्मीर
C. मणिपुर
D. चंडीगढ़

C. मणिपुर

Q. अधिगम के लिए निम्न में से कौन-सी धारणा उपयुक्त है ?

A. योग्यता सुधार्य है।
B. योग्यता अटल है।
C. प्रयासों से कोई फर्क नहीं पड़ता।
D. असफलता अनियंत्रित है।

A. योग्यता सुधार्य है।

Q. एक कार्य के दौरान, सायना स्वयं से बात कर रही है कि वह कार्य पर किस प्रकार प्रगति कर सकती है । लेव वायगोत्स्की के भाषा और चिंतन/सोच के बारे में दिए गए विचारों के अनुसार, इस तरह का ‘व्यक्तिगत वाक’ क्या दर्शाता है ?

A. संज्ञानात्मक अपरिपक्वता
B. स्व: नियमन
C. आत्म-केन्द्रिता
D. मनोवैज्ञानिक विकार

A. संज्ञानात्मक अपरिपक्वता

Q. बच्चों के विकास की व्यक्तिगत विभिन्नताओं को किस पर प्रतिरोपित किया जा सकता है ?

A. केवल आनुवंशिकता पर
B. केवल पर्यावरण पर
C. ना आनुवंशिकता पर ना पर्यावरण पर
D. आनुवंशिकता एवम् पर्यावरण की पारस्परिकता पर

D. आनुवंशिकता एवम् पर्यावरण की पारस्परिकता पर

Q. प्राथमिक कक्षा में सकारात्मक वातावरण निर्मित करने के लिए एक शिक्षक को

A. सकारात्मक अंत वाली कहानियाँ सुनानी चाहिए
B. सुबह प्रत्येक बच्चे का अभिवादन करना चाहिए
C. विभेद नहीं करना चाहिए और प्रत्येक बच्चे के लिए समान सुनिश्चित करने चाहिए
D. समूह गतिविधियों के दौरान समाजमिति के आधार पर उन समूह बनाने की अनुमति देनी चाहिए लिए समान लक्ष्य

C. विभेद नहीं करना चाहिए और प्रत्येक बच्चे के लिए समान सुनिश्चित करने चाहिए

Q. विद्यार्थियों के पोर्टफोलियो के लिए सामग्री का चयन करते समय .. …….. का ………. जरूर होना चाहिए।

A. अभिभावकों; समावेशन
B. विद्यार्थियों; बहिष्करण
C. अन्य शिक्षकों; समावेशन
D. विद्यार्थियों समावेशन

D. विद्यार्थियों समावेशन

Q. नर्सरी कक्षा में शुरुआत करने के लिए कौन-सी विषय-वस्तु (theme) सबसे अच्छी है?

A. मेरा प्रिय मित्र
B. मेरा पडोस
C. मेरा विद्यालय
D. मेरा परिवार

D. मेरा परिवार

Q. कक्षा में जेंडर रूढ़िबद्धता से बचने के लिए एक शिक्षक को

A. लड़के-लड़कियों को एक साथ अ-पारंपरिक भूमिकाओं में रखना चाहिए।
B. ‘अच्छी लड़की’, ‘अच्छा लड़का’ कहकर शिक्षार्थियों के अच्छे – कार्य की सराहना करनी चाहिए।
C. कुश्ती में भाग लेने के लिए लड़कियों को निरुत्साहित करना।
D. लड़कों को जोखिम उठाने और निर्भीक बनने के लिए प्रोत्साहित करना।

A. लड़के-लड़कियों को एक साथ अ-पारंपरिक भूमिकाओं में रखना चाहिए।

👉🏿सामान्य हिन्दी के महत्वपूर्ण प्रश्न -उत्तर देखे | Samanya Hindi Important Question-Answer

Q. विद्यालयों को किसके लिए वैयक्तिक भिन्नताओं को पूरा करना चाहिए?

A. वैयक्तिक शिक्षार्थियों के मध्य खाई को कम करने के लिए।
B. शिक्षार्थियों के निष्पादन और योग्यताओं को समान करने के लिए।
C. यह समझने के लिए कि क्यों शिक्षार्थी सीखने के योग्य या अयोग्य हैं।
D. वैयक्तिक शिक्षार्थी को विशिष्ट होने की अनुभूति कराने के लिए।

C. यह समझने के लिए कि क्यों शिक्षार्थी सीखने के योग्य या अयोग्य हैं।

Q. सतत और व्यापक मूल्यांकन पर बल देता है।

A. सीखने को सुनिश्चित करने के लिए व्यापक स्केल पर निरंतर परीक्षण
B. सीखने को किस प्रकार अवलोकित, रिकार्ड और सुधारा जाए इस पर
C. शिक्षण के साथ परीक्षाओं का सामंजस्य
D. बोर्ड परीक्षाओं की अनावश्यकता पर

B. सीखने को किस प्रकार अवलोकित, रिकार्ड और सुधारा जाए इस पर

Q. ‘सीखने की तत्परता’ की ओर संकेत करती है।

A. शिक्षार्थियों का सामान्य योग्यता स्तर
B. सीखने के सातत्यक में शिक्षार्थियों का वर्तमान संज्ञानात्मक स्तर
C. सीखने के कार्य की प्रकृति को संतुष्ट करने
D. थॉर्नडाइक का तत्परता का नियम

B. सीखने के सातत्यक में शिक्षार्थियों का वर्तमान संज्ञानात्मक स्तर

Q. एक शिक्षिका की कक्षा में कुछ शारीरिक विकलांगता वाले बच्चे हैं। निम्नलिखित में से उसके लिए क्या कहना सबसे उचित होगा?

A. पहिया-कुर्सी वाले बच्चे हॉल में जाने के लिए अपने समवयस्क साथी बच्चों से मदद ले सकते हैं।
B. शारीरिक रूप से असुविधाग्रस्त बच्चे कक्षा में ही कोई वैकल्पिक गतिविधि कर सकते हैं।
C. मोहन खेल के मैदान में जाने के लिए आप अपनी बैसाखियों का प्रयोग क्यों नहीं करते
D. पोलियोग्रस्त बच्चे एक गाना प्रस्तुत करेंगे।

C. मोहन खेल के मैदान में जाने के लिए आप अपनी बैसाखियों का प्रयोग क्यों नहीं करते

Q. ___ के अतिरिक्त निम्नलिखित सभी के कारण अधिगम अक्षमता उत्पन्न हो सकती है।

A सेरेब्रल डिस्फंक्शन
B. संवेगात्मक विघ्न
C. व्यवहारगत विघ्न
D. सांस्कृतिक कारक

D. सांस्कृतिक कारक

Q. बच्चों में सीखने और सुनने के लिए अधिगम योग्य वातावरण के लिए निम्नलिखित में से कौन उपयुक्त है?

A. एक लंबे समय के लिए निष्क्रिय रूप से सुनना।
B. निरंतर गृहकार्य देते रहना।
C. सीखने वाले द्वारा व्यक्तिगत कार्य करना।
D. शिक्षार्थियों को कुछ यह छूट देना कि क्या सीखना है और कैसे सीखना है।

D. शिक्षार्थियों को कुछ यह छूट देना कि क्या सीखना है और कैसे सीखना है।

Q. ______ के अतिरिक्त निम्नलिखित समस्या समाधान की प्रक्रिया के चरण हैं:

A. समस्या की पहचान
B. समस्या का छोटे हिस्सों में बाँटना
C. संभावित युक्तियों को खोजना
D. परिणामों की आशा करना

B. समस्या का छोटे हिस्सों में बाँटना

Q. सीमा परीक्षा में A+ ग्रेड प्राप्त करने के लिए अति इच्छुक है। वह परीक्षा भवन में दाखिल होती है तथा परीक्षा प्रारंभ होती है। अत्यधिक नर्वस हो जाती है। उसके पाँव ठंडे पड़ जाते हैं, उसके हटा की धड़कन बहुत तेज हो जाती है और वह उचित तरीके से उत्तर नहीं दे पाती। इसका मुख्य कारण हो सकता है:

A. शायद वह अपनी तैयारी के बारे में बहुत आत्मविश्वासी नहीं है।
B. शायद वह इस परीक्षा के परिणाम के बारे में बहुत अधिक सोचली
C. निरीक्षक शिक्षिका जो ड्यूटी पर है, वह उसकी कक्षा अध्यापिका हो सकती है और वह स्वभाव में बहुत कठोर है।
D. शायद वह अकस्मात् संवेगात्मक आवेग का सामना नहीं कर सकती।

D. शायद वह अकस्मात् संवेगात्मक आवेग का सामना नहीं कर सकती।

Q. भाषा विकास के लिए सबसे संवेदनशील समय निम्नलिखित में से कीन-सा है?

A. जन्मपूर्व का समय
B. मध्य बचपन का समय
C. वयस्कावस्था
D. प्रारंभिक बचपन का समय

D. प्रारंभिक बचपन का समय

Q. एक 6 वर्ष की लड़की खेलकद में असाधारण योग्यता का प्रदर्शन करती है। उसके माता-पिता दोनों ही खिलाड़ी हैं, उसे नित्य प्रशिक्षण प्राप्त करने भेजते हैं और सप्ताहांत में उसे प्रशिक्षण देते हैं। बहुत संभव है कि उसकी क्षमताएँ निम्नलिखित दोनों के बीच परस्पर प्रतिक्रिया का परिणाम होंगीः

A. आनुवंशिकता और पर्यावरण
B. वृद्धि और विकास
C. स्वास्थ्य और प्रशिक्षण
D. अनुशासन और पौष्टिकता

A. आनुवंशिकता और पर्यावरण

Q. निम्नलिखित में कौन-सी समाजीकरण के गौण वाहक हो सकते हैं?

A. परिवार और पास-पड़ोस
B. विद्यालय और पास-पड़ोस
C. विद्यालय और निकटतम परिवार के सदस्य
D. परिवार और रिश्तेदार

A. परिवार और पास-पड़ोस

Q. लेब वाइगोत्स्की के अनुसार संज्ञानात्मक विकास का मूल कारण

A. संतुलन
B. सामाजिक अन्योन्यक्रिया
C. मानसिक प्रारूपों (स्कीमाज) का समायोजन
D. उद्दीपक-अनुक्रिया युग्मन

B. सामाजिक अन्योन्यक्रिया

Q. किसी बच्चे का दिया गया विशिष्ट उत्तर कोलबर्ग के नैतिक तर्क के सोपानों की विषयवस्तु के किस सोपान के अंतर्गत आएगा? “यदि आप ईमानदार हैं, तो आपके माता-पिता आप पर गर्व करेंगे। इसलिए आपको ईमानदार रहना चाहिए।”

A. दंड-आज्ञाकारिता अनुकूलन
B. सामाजिक संकुचन अनुकूलन
C. अच्छी लड़की-अच्छा लड़का अनुकूलन ‘
D. कानून और व्यवस्था अनुकूलन

C. अच्छी लड़की-अच्छा लड़का अनुकूलन

Share Now :-

Leave a Comment