Child Development and Pedagogy mcq for CTET

Child Development & Pedagogy MCQ :- बाल विकास शिक्षा शास्त्र के प्रश्न केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड के द्वारा शिक्षक पात्रता परीक्षा सीटेट आयोजित की जाती है | केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड द्वारा आयोजित शिक्षक पात्रता परीक्षा का आयोजन साल में दो बार किया जाता है आप इस परीक्षा में सफल होकर देश के किसी भी राज्य में शिक्षा बनने के पात्र माने जाते है | बाल विकास एवं शिक्षाशास्त्र  से संबंधित महत्वपूर्ण प्रश्न का अध्ययन करेंगे | शिक्षक पात्रता परीक्षा जैसे की – CTET, UPTET, HPTET, PSTET,BPSC TET ,MPTET ,etc में इससे सम्बंधित प्रश्न पूछे जाते हैं |

आज हम इस पोस्ट के माध्यम से बाल विकास एवं शिक्षाशास्त्र के कुछ महत्वपूर्ण प्रश्नों को देखेंगे जो केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड द्वारा आयोजित पात्रता परीक्षा में के लिए अति महत्वपूर्ण है।यदि आप भी टीईटी परीक्षाओं की तैयारी कर रहे हैं तो इन प्रश्नों को जरुर पढ़े | अगर आप भी शिक्षक भर्ती परीक्षा की तैयारी करते हैं तो इस Ctet cdp important questions को पूरा जरुर पढ़ें | इसलिए Child Development and Pedagogy mcq for CTET को पुरा जरुर पढ़े |

Child Development & Pedagogy MCQ

Child Development & Pedagogy Best MCQ’s

निम्नलिखित में से किस मनोवैज्ञानिक ने प्रस्तावित किया है कि बच्चों का चिंतन गुणात्मक रूप से वयस्कों की अपेक्षा अलग होता है ?

(A) हॉवर्ड गार्डनर
(B) लॉरेंस कोलबर्ग
(C) जीन पियाजे
(D) लेव वायगोत्स्की

उत्तर :- (C )

बच्चों के समाजीकरण में विद्यालय कौन है ?

(A) प्राथमिक कारक है।
(B) द्वितीयक कारक है।
(C) की कोई भूमिका नहीं है ।
(D) की बहुत कम भूमिका है।

उत्तर :- (B )

विकास के विषय में निम्नलिखित में से कौन सा कथन सही है ?

(A) विकास सुरुचिपूर्ण, सुव्यवस्थित समूह की अवस्थाओं में पूर्वनिश्चित आनुवंशिक
घटकों के कारण होता है।
(B) विकास एक सरल और एक-दिशीय प्रक्रिया है।
(C) बच्चों के विकास में बहुत-सी सांस्कृतिक विविधताएँ होती हैं।
(D) संसार में सभी बच्चों का विकास एक ही क्रम में और सुनिश्चित समय से होता है।

उत्तर :- ( C)

बाल्यावस्था की अवधि में विकास –

(A) में केवल परिमाणात्मक परिवर्तन होते हैं।
(B) अनियमित और असंबद्ध होता है।
(C) धीमी गति से होता है एवं उसे मापा नहीं . जा सकता।
(D) बहुस्तरीय और मिश्रित होता है।

उत्तर :- (C )

Q. लॉरेंस कोलबर्ग की नैतिक विकास के सिद्धांत के अनुसार व्यक्ति किस अवस्था में है जब वह विश्वास करता है कि वर्तमान सामाजिक प्रणाली को सक्रियतापूर्वक बनाए रखने से धनात्मक मानवीय संबंध और सामाजिक वर्ग सुरक्षित रहता है ?

(A) यंत्रीय उद्देश्य अभिविन्यास
(B) सार्वभौमिक नैतिक सिद्धांत अभिविन्यास
(C) दंड और आज्ञापालन अभिविन्यास
(D) सामाजिक-क्रम व्यवस्था अभिविन्यास

उत्तर :- (D )

Q. लेव वायगोत्स्की के अनुसार —

(A) बच्चों का संज्ञानात्मक विकास चरणों में … होता है।
(B) स्कीमा के परिपक्कन से बच्चों में .. संज्ञानात्मक विकास अग्रसर होता है।
(C) बच्चों के संज्ञानात्मक विकास में भाषा की . एक महत्त्वपूर्ण भूमिका है।
(D) बच्चे ‘भाषा अधिग्रहण यंत्र’ द्वारा भाषा सीखते हैं।

उत्तर :- (C )

Q. बहु-बुद्धि का सिद्धांत जोर देता है कि

(A) बुद्धि-लब्धि केवल वस्तुनिष्ठ परीक्षणों द्वारा ही मापी जा सकती है।
(B) एक आयाम में बुद्धिमत्ता, अन्य सभी आयामों में बुद्धिमत्ता निर्धारित करती है।
(C) बुद्धिमत्ता की विभिन्न दशाएँ हैं।
(D) बुद्धिमत्ता में कोई व्यक्तिगत विभिन्नताएँ नहीं होती हैं।

उत्तर :- (B )

Q. बाल-केंद्रित कक्षा वह है, जिसमें

(A) बच्चों के व्यवहार को निदेशित करने के लिए अध्यापक पुरस्कार और दंड का प्रयोग करता है।
(B) अध्यापक लचीला है और प्रत्येक बच्चे की व्यक्तिगत आवश्यकताओं को पूरा करता है।
(C) अध्यापक केवल पाठ्यपुस्तक को ज्ञान के स्रोत के लिए उपयोग करता है।
(D) अध्यापक, बच्चों को उनकी क्षमता के आधार पर वर्गीकृत करता है।

उत्तर :- (B )

Q. पठनवैफल्य बच्चों की पहचान किस प्रकार की जा सकती है ?

(A) उनके पढ़ने और लिखने की कौशलता के विश्लेषण से।
(B) उनकी जटिल व उच्च-स्तरीय समस्याओं को हल करने की क्षमता का आकलन करके।
(C) उनके सामाजिक एवं सांस्कृतिक संदर्भ को जानकर।
(D) पूर्ण शारीरिक स्वास्थ्य परीक्षण द्वारा।

उत्तर :- (A )

Q. एक प्रगतिशील कक्षा में –

(A) अध्यापक को अटल पाठ्यक्रम का पालन करना चाहिए।
(B) विद्यार्थियों में प्रतिस्पर्धा पर बल देना चाहिए।
(C) ज्ञान की संरचना के लिए प्रचुर मौके प्रदान करने चाहिए।
(D) विद्यार्थियों को उनके अकादमिक अंकों के आधार पर नामांकित करना चाहिए ।

उत्तर :- (C )

Q. जीन पियाजे के संज्ञानात्मक विकास के सिद्धांत में, पूर्व-संक्रियात्मक अवस्था में विकास का मुख्य गुण क्या होता है ?

(A) अमूर्त सोच का विकास
(B) विचार/सोच में केंद्रीकरण
(C) परिकल्पित-निगमनात्मक सोच
(D) संरक्षण और पदार्थों को क्रमबद्ध करने की क्षमता

उत्तर :- ( B)

Q. ‘सीखने की तत्परता’ की ओर संकेत करती है।

(A) शिक्षार्थियों का सामान्य योग्यता स्तर
(B) सीखने के सातत्यक में शिक्षार्थियों का वर्तमान संज्ञानात्मक स्तर
(C) सीखने के कार्य की प्रकृति को संतुष्ट करने
(D) थॉर्नडाइक का तत्परता का नियम

उत्तर :- (B )

Q. ___ के अतिरिक्त निम्नलिखित सभी के कारण अधिगम अक्षमता उत्पन्न हो सकती है।

(A) सेरेब्रल डिस्फंक्शन
(B) संवेगात्मक विघ्न
(C) व्यवहारगत विघ्न
(D) सांस्कृतिक कारक

उत्तर :- (D )

Q. ______ के कारण प्रतिभाशालिता होती है। …

(A) आनुवंशिक रचना
(B) वातावरणीय अभिप्रेरणा
(C) (A) और
(B) का संयोजन
(D) मनो-सामाजिक कारकों

उत्तर :- (C )

Q. अधिगम निर्योग्यता ______

(A) एक स्थिर अवस्था है।
(B) एक चर अवस्था है।
(C) जरूरी नहीं कि कार्य-पद्धति की हानि करे।
(D) समुचित निवेश के साथ सुधार योग्य नहीं होती।

उत्तर :- (B )

Share Now :-